Asianet News HindiAsianet News Hindi

नवरात्रि में गोरखपुर रेलवे ने शुरू किया सात्विक फूड काउंटर, जानिए यात्रियों को किस तरह की मिलेंगी सुविधाएं

यूपी के गोरखपुर रेलवे स्टेशन में अब उपवास करने वाले यात्रियों के लिए सात्विक फूड काउंटर की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। नवरात्रि में अब उपवास करने वाले यात्रियों को इस सुविधा के चलते किसी भी तरह की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Gorakhpur Railway started sattvik food counter in Navratri know what kind of facilities the passengers will get
Author
First Published Oct 1, 2022, 10:20 AM IST

गोरखपुर: नवरात्रि में व्रत रखने वालों के लिए एक अच्छी खबर सामने आ रही है। यूपी के गोरखपुर रेलवे स्टेशन में अब नवरात्रि के दौरान उपवास करने वाले यात्रियों के लिए सात्विक फूड काउंटर उपलब्ध करवाया जा रहा है। बीते शुक्रवार को एक अधिकारी ने बताया कि नवरात्रि में व्रत रखने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए गोरखपुर रेलवे सात्विक फूड काउंटर शुरू किया जा रहा है। इस काउंटर पर शुद्ध सात्विक भोजन और पानी उपलब्ध करवाया जा रहा है। 

रेलवे ने शुरू किया सात्विक फूड काउंटर
बता दें कि रेलवे ने उपवास रखने वाले यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए एक स्पेशल मेन्यू की घोषणा की है। नौ दिनों तक चलने वाले इस उत्सव के दौरान ट्रेनों में उपवास की थाली मिलेगी, ताकि उपवास में किसी तरह की परेशानी न आए। उत्तर पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह ने बताया गोरखपुर रेलवे स्टेशन ने ट्रेनों में यात्रा करने वाले विभिन्न तीर्थयात्रियों की जरूरतों को पूरा करने के लिए यह खास पेशकश को तैयार किया गया है। 

रेलवे अधिकारी ने दी जानकारी
उन्होंने कहा कि चाहे फिर वह आलू के चिप्स हों या मूंगफली की चिक्की, मेनू में सभी के लिए कुछ न कुछ उपलब्ध है। मूंगफली की चिक्की का मूल्य 38 रुपये और मखाना, आलू और साबूदाना के चिप्स का दाम 60 रुपये रखा गया है। इसके अलावा सेव नमकीन 150 रुपए किलो और मिठाई जैसे कि पेठा आदि का भी मूल्य उसके पैकेट पर देखा जा सकता है। पंकज कुमार सिंह ने बताया कि इसके अलावा यात्रियों को इस काउंटर पर फल भी मिलेंगे। वहीं इस सुविधा पर बात करते हुए एक पैसेंजर नमिता ने बताया कि वह काठमांठू घूमने आई थी। लेकिन पूरे स्टेशन पर उन्हें फल आदि भी नहीं मिल रहे थे। 

यात्रियों ने इस सुविधा पर जताई खुशी
नमिता ने कहा कि इस तरह की सुविधाएं केवल घर में पाई जाती हैं। अब रेलवे अपने यात्रियों को यह सुविधा देने जा रहा है जिससे कि वह काफी खुश है। ऐसे में अब उपवास करने वाले लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। बता दें कि इससे पहले 26 सितंबर को सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार से शुरू होने वाले शारदीय नवरात्रि समारोह के दौरान वैदिक मंत्रोच्चार के बीच नाथपंथ के नेता गुरु गोरक्षनाथ के आध्यात्मिक निवास गोरक्षपीठ में कलशस्थान समारोह में हिस्सा लिया था। 

सीएम योगी ने नवरात्रि में विधि-विधान से की पूजा
नवरात्रि के पहले दिन सीएम योगी ने देवी दुर्गा के नौ रूपों में से पहली मां शैलपुत्री की पूजा की थी। दो घंटे तक चलने वाली पूजा देवी पाठ, आरती और क्षमा प्रार्थना के संपन्न की गई थी। इस के साथ ही कलश स्थापना से पहले गोरखनाथ मंदिर परिसर में पारंपरिक भव्य कलश जुलूस धार्मिक उत्साह के साथ निकाला गया था। मंदिर के पुजारी आचार्य रामानुज त्रिपाठी के नेतृत्व में अन्य पुजारियों, संस्कृत विद्यापीठ के शिक्षकों और वेदपट्टी के छात्रों द्वारा सभी अनुष्ठान किए गए। सीएम बनने से पहले योगी आदित्यनाथ पूरे नवरात्रि के लिए गोरखनाथ मठ की पहली मंजिल पर रहते थे।

मॉडलिंग छोड़कर आखिर 'मिस गोरखपुर' क्यों बेचने लगी चाय?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios