Asianet News HindiAsianet News Hindi

Lucknow: घर के बाहर घूमते मिले होम आइसोलेशन के मरीज तो भेजे जाएंगे अस्पताल, जिला प्रशासन ने लिया फैसला

 लखनऊ के जिलाधिकारी ने अभिषेक प्रकाश ने निर्देश दिए कि यदि कोई रोगी होम आइसोलेशन (Home Isolation) का पालन नहीं करता है और बाहर घूमता फिरता है तो तत्काल उसको इंस्टिट्यूशनल क्वारेन्टीन में भर्ती कराने की कार्यवाही की जाए।

Home isolation patients found roaming outside the house will be sent to the hospital the district administration has decided
Author
Lucknow, First Published Jan 4, 2022, 1:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना संक्रमण का खतरा एक बार फिर बढ़ता जा रहा है।  तेजी के साथ बढ़ रही नए मरीजों के साथ एक्टिव केस (Active case) की संख्या को देखते हर लखनऊ जिला प्रशासन (Lucknow Administration) एक बार फिर अलर्ट मोड़ पर आ गया है। सोमवार को लखनऊ के जिलाधिकारी (Lucknow DM) ने विभागीय अफसरों के साथ बैठक करते हुए आवश्यक दिशानिर्देश जारी किए। बैठक में अपर मुख्य सचिव ग्राम विकास एवं पंचायती राज, मंडलायुक्त, और जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश (Abhishek Prakash) मौजूद रहे। इस दौरान लखनऊ के जिलाधिकारी ने अभिषेक प्रकाश ने निर्देश दिए कि यदि कोई रोगी होम आइसोलेशन (Home Isolation) का पालन नहीं करता है और बाहर घूमता फिरता है तो तत्काल उसको इंस्टिट्यूशनल क्वारेन्टीन में भर्ती कराने की कार्यवाही की जाए।

घूमते मिले होम आइसोलेशन के मरीज तो भेजे जाएंगे अस्पताल
बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश देते हुए कहा कि कोविड 19 से सम्बंधित कार्यो में शिथिलता एवं लापरवाही को कभी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसा करने वालों के विरुद्ध महामारी एक्ट के तहत कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन के रोगियों की कड़ी मॉनिटरिंग की जाए कि वह घर पर रहकर होम आइसोलेशन के प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं या नहीं। यदि कोई रोगी होम आइसोलेशन का पालन नहीं करता है और बाहर घूमता फिरता है तो तत्काल उसको इंस्टिट्यूशनल क्वारेन्टीन में भर्ती कराने की कार्यवाही की जाए।

घर वालों के साथ साथ बाहर वालों की भी हो कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग
अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह ने कहा कि पाज़िटिव रोगियों के घर वालों के साथ साथ व्यक्ति के घर के बाहर वाले सम्पर्कों को भी ट्रेस करते हुए उनकी भी ट्रेसिंग कराई जाए। साथ ही करीबी सम्पर्क वाले व्यक्तियों का RTPCR टेस्ट कराना सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण की दृष्टि से अगला एक माह बहुत ही महत्वपूर्ण है। जिसके लिए युद्धस्तर पर ट्रेसिंग, टेस्टिंग व सर्विलांस करना अति आवश्यक है।

स्कूलों में लगेंगे वैक्सीनेशन कैम्प
वैक्सीनेशन के सम्बंध में जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि वैक्सीनेशन की गति को और बढ़ाया जाए ताकि जल्द से जल्द पूरे जिले को वैक्सीनेट किया जा सके। साथ ही बताया कि कल से स्कूलों में भी बच्चों का वैक्सीनेशन कराया जाएगा। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा समस्त MOIC को निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन वाले शत प्रतिशत रोगियों को मेडिकल किट उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। साथ ही निर्देश दिया कि सभी प्रशासनिक व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी 4-6 घंटे फील्ड में रहें और व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios