Asianet News HindiAsianet News Hindi

अयोध्या में जमीन खरीद कर फंसे सैकड़ों, 20 वर्षों में लेआउट पास होने की संख्या शून्य फिर भी होम लोन टॉप पर

अयोध्या में बनी कालोनियों के लेआउट को खंगाला जा रहा है। दरअसल यहां कई ऐसी जमीने हैं जहां वर्षों पहले खेती होती थी और आज बिल्डिंगे खड़ी हैं। इन जमीनों को कौड़ी के भाव में खरीदकर अच्छे दामों पर बेंचा गया। 

Hundreds trapped after buying land in Ayodhya number of layout passes in 20 years is zero
Author
Ayodhya, First Published Aug 23, 2022, 7:41 PM IST

अनुराग शुक्ला
अयोध्या:
जनपद में बनी कालोनियों के लेआउट खंगाले जाने के बाद विकास प्राधिकरण के होश उड़ गए हैं। जांच हुई तो पता चला कि पिछले 20 वर्षों में क्षेत्र में बनी दर्जनों कालोनियों के लेआउट के लिए एप्लीकेशन तक नहीं पड़ी, पास होना या न होना दूर की बात है। कालोनाइजरों ने जम कर जमीनें बेची और लोगों ने आँख बंद कर लाखों-करोड़ों रुपए लगाकर सपनों का आशियाना खड़ा कर दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बैकों ने भी घर बनाने के लिए जमकर 25260.30 रुपये का होम लोन बांट दिया । यह आंकड़ा यूपी के 10 जिलों में टॉप पर है। लोग उधार लेकर कालोनाइजर की तिजोरी भरते रहे। अब जांच शुरू हुई तो हड़कंप मचा है।

शासन को भेजा गया मास्टर प्लान कुछ दिन में लागू करने की योजना
विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह के मुताबिक 1983 के बाद से यहां कोई भी मास्टर प्लान लागू नहीं हुआ। इसलिए बड़ा क्षेत्र अर्बन स्क्रॉल के रूप में विकसित हो गया। इसलिए कॉलोनी का कोई स्वरूप ही नहीं है। इस गंभीर समस्या को देखते हुए मास्टर प्लान बना कर शासन में भेज दिया गया है। जिसे कुछ दिन बाद लागू करने की योजना है। उन्होंने बताया बिल्डिंग बाइलॉज के हिसाब से मास्टर प्लान बनाया गया हैl

खेतों को बेचकर बना दी गई कॉलोनी,नक्शा पास करने पर लगी पाबंदी
अयोध्या के बहुत से स्थान ऐसे है जहां किसी जमाने मे खेती होती थी, आज उन स्थानों पर बिल्डिंगें खड़ी हो गई है। अवैध प्रापर्टी डीलरों से जम कर कौड़ियों के भाव मे जमीने खरीदी और अच्छे दामों पर बेची। रास्ता काटकर प्लाटिंग कर दी। बाद में वहां स्थानीय स्तर पर जिम्मेदारों ने सारी सुविधाएं भी मुहैया करा दीं। जन प्रतिनिधियों ने भी दिल खोलकर सड़को और मूलभूत सुविधाओं का लोकार्पण और उद्घाटन किया। अब जांच शुरू हुई तो विकास प्राधिकरण ने खेतों में बने घरों के नक्शे को पास करने पर पाबंदी लगा दी है। सूत्रों के मुताबिक अयोध्या क्षेत्र में होम लोन लेने पर भी नकेल कस दी गई है।

अयोध्या में जमीन खरीदने के पहले प्राधिकरण से करें संपर्क 
विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह ने लोगों को सावधान करते हुए कहा है कि अयोध्या में कोई आवासीय या इंडस्ट्रियल लैंड लेने जा रहा है तो पहले अयोध्या विकास प्राधिकरण से मास्टर प्लान और लैंड यूज का क्या निर्धारण है। उसके बारे में जांच अवश्य कर लें। कॉलोनी में जमीन खरीदने से पहले वहां निर्माण किए गए लोगों से पूछे कि इसका लेआउट और नक्शा पास हो रहा है या नहीं ।इस बात का ध्यान अवश्य दें । उन्होंने जमीन खरीदारों को आगाह करते हुए कहा है कि विकास प्राधिकरण में आकर अयोध्या की प्लानिंग को अवश्य जान ले।

भदोही में पूर्व प्रधान ने दलित छात्रा को पीटकर स्कूल से निकाला बाहर, जानिए क्या है पूरा मामला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios