Asianet News HindiAsianet News Hindi

तू मेरी नहीं तो किसी और की होने नहीं दूंगा...कहने वाला बॉस हुआ अरेस्ट, जानिए क्यों युवक ने दी थी ऐसी धमकी

यूपी के जिले कानपुर में युवती ने बॉस के शादी के प्रस्ताव पर मना करने के बाद नौकरी छोड़ दी। जिसके बाद आरोपी बॉस उसको परेशान करने लगा और उससे  5.50 लाख रुपए की मांग भी कर रहा था। इतना ही नहीं उसका कहना है कि शादी से मना करने पर कहा कि तू मेरी नहीं तो किसी और की होने नहीं दूंगा। 

 Kanpur If you are not mine then I will not let anyone else boss says Arrest young man had given such threat with this step girl
Author
First Published Sep 8, 2022, 9:35 AM IST

कानपुर: उत्तर प्रदेश के जिले कानपुर में फर्जी आईडी बनाकर स्टाफ की लड़की को अश्लील फोटो भेजकर ब्लैकमेल करने वाला बॉस को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया है। युवक पर आरोप है कि वह कंपनी हेड लड़की से 5.50 लाख रुपए मांग रहा था। इतना ही नहीं युवती के सामने शादी का प्रस्ताव रखा और उसके मना करने पर कहा कि तू मेरी नहीं तो किसी और की होने नहीं दूंगा। आरोपी के द्वारा इन हरकतों से तंग आकर युवती ने शिकायत की थी। शिकायत पर STF सक्रिय हुई और लड़की के जरिए ढाई लाख रकम देने का झांसा देकर बुलाया। इसी दौरान ब्लैकमेल करने वाला बॉस मोहन सिंह गिरफ्तार हो गया। 

युवती ने परेशान होकर छोड़ दी थी नौकरी
आरोपी मोहन हरदोई जिले के दौलतपुर, मल्लावां का रहने वाला है। मोहन की हरकतों से परेशान होकर युवती ने नौकरी भी छोड़ दी थी। राज्य के जिले कानपुर के किदवई नगर क्षेत्र की लड़की का आरोप है कि साल 2019 में वह मोबाइल कंपनी में काम करती थी। इसी कंपनी में दिल्ली के हेड कंपनी में काम करने वाला मोहन सिंह को एकतरफा प्यार हो गया। उसने युवती से शादी का प्रस्ताव रखा तो युवती ने सीधे मना कर दिया और उसके बाद नौकरी छोड़ दी। इस बात से झल्लाए मोहन सिंह ने उसकी फोटो एडिट कर अश्लील बना दी फिर फोटो एक फर्जी आईडी बनाकर फेसबुक मैंसेजर से युवती को भेज दिया। इतना ही नहीं उसने इसके साथ ही कंपनी के ऑफिशियल मेल पर भी फोटो भेज दी।

पुलिस ने STF से मांगा सहयोग 
आरोपी बॉस ने युवती को मैसेज किया कि अगर उसने 5.50 लाख नहीं दिए तो वह फोटो वायरल कर देगा। युवती ने परेशान होकर थाना किदवई नगर में 30 अगस्त को एफआईआर दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी। इस जांच में पता चला कि जिस फेसबुक आईडी (विशाल शर्मा) और जीमेल आईडी (ऋषभ लखनऊ) का इस्तेमाल अश्लील फोटो भेजने के लिए फर्जी तौर पर बनाया है। इंस्पेक्टर किदवई नगर अशोक दुबे ने बताया कि फेक आईडी से मैसेज भेजने की बात सामने आने पर STF से सहयोग मांगा गया। उसके बाद एसटीएफ लखनऊ की साइबर टीम में तैनात हेड कांस्टेबल विनोद सिंह, प्रभाकर पाण्डेय आदि लोगों ने इंटरनेट सर्विलांस की मदद से आरोपी को खोजने में मदद की।

पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताई ये बात
STF लखनऊ की टीम मंगलवार को देर रात कानपुर पहुंची और आरोपी को वेंडी तिराहा किदवई नगर के पास से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जब आरोपी को युवती को दिखाया तो पता चला कि उसका पहले का बॉस की उसे ब्लैकमेल कर रहा था। पुलिस की पूछताछ में मोहन ने बताया कि वह शादी से मना करने से नाराज था। आगे कहता है कि उसे लग रहा था कि इसे बदनाम कर दूंगा तो इसकी शादी नहीं हो पाएगी। अगर वो मेरी नहीं हो सकती तो मैं किसी और की भी होने नहीं दूंगा। इस बात से आरोपी ने युवती को परेशान किया।

तीन पीढ़ियों से नहीं चल रहा खानदान का पता, पूर्वजों की तलाश में जौनपुर पहुंची वेस्टइंडीज की महिला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios