Asianet News HindiAsianet News Hindi

कानपुर में 10 साल के बच्चे का अपहरण कर किया कुकर्म, फिरौती की मांग पूरी न होने पर किडनैपर्स ने उठाया बड़ा कदम

यूपी के जिले कानपुर में दस साल के बच्चे का अपहरण कर कुकर्म का मामला सामने आया है। इतना ही नहीं फिरौती की मांग पूरी नहीं होने पर किडनैपर्स ने बच्चे को जिंदा गंगा नदी में फेंक दिया। फिलहाल पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Kanpur Kidnappers kidnapped 10 year old child big step when ransom demand was not met
Author
First Published Aug 31, 2022, 3:37 PM IST

कानपुर: उत्तर प्रदेश के जिले कानपुर में दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। यहां दस साल के बच्चे का घर के बाहर से अपहरण किया गया है। जिसके बाद किडनैपर्स ने छह लाख रुपए की फिरौती मांगने के लिए बच्चे के पिता को फोन किया। पिता के द्वारा इतनी रकम नहीं दे पाने की बात पर किडनैपर्स ने बच्चे के साथ कुकर्म किया। इतना ही नहीं, उसके बाद बच्चे को गंगा में फेंक दिया। पीड़ित पिता ने बच्चे की अपहरण की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने फिरौती मांगने वाले नंबर को सर्विलांस की मदद से डिटेल निकाली और चार किडनैपर्स को गिरफ्तार कर लिया है।

देर रात नौ बजे किडनैपर्स ने बच्चे के पिता को किया फोन
पुलिस द्वारा किडनैपर्स को गिरफ्तार करने वाले आरोपियों ने बच्चे के साथ कुकर्म और जिंदा गंगा में फेंकने की बात को स्वीकर किया है। उसके बाद से ही पुलिस किडनैपर्स की निशानदेही पर सुबह से ही गंगा में बच्चे का शव सर्च कर रही है पर दोपहर तक कुछ नहीं मिला है। बच्चे का परिवार शहर के कैंट इलाके में रहता है और मृतक के पिता लोडर ड्राइवर हैं। दरअसल सोमवार की शाम बेटा खेलने के लिए घर से निकला था। काफी देर तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने तलाश शुरू की लेकिन उसका कुछ नहीं पता चला। उसके बाद रात करीब नौ बजे उसके पिता के मोबाइल पर किडनैपर्स का फोन आया और कहा कि तुम्हारा बेटा मेरे पास है। अगर सलामती चाहते हो तो 6 लाख देने होंगे। पिता ने किडनैपर्स से लाचारी दिखाते हुए कहा कि इतनी बड़ी रकम वह नहीं दे पाएंगे।

सर्विलांस और सीसीटीवी की मदद से पकड़े गए आरोपी 
इसके बाद पिता ने पुलिस को सूचना दी कि फिरौती के लिए उसके पास फोन आया था। पुलिस ने सर्विलांस की मदद से मोबाइल नंबर की डिटेल निकाली। बच्चे के गायब होने के सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को मिले। इसकी मदद से मंगलवार को पुलिस ने पड़ोस में ही रहने वाले चार युवकों को गिरफ्तार किया। इनके नाम बल्लू, अमित, समीर और अमीन है। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की तो उन्होंने गुनाह को स्वीकार किया। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि फोन पर फिरौती मांगी थी लेकिन बच्चे के पिता ने कह दिया था कि इतना पैसा मेरे पास नहीं है। इसके बाद हमने बच्चे के साथ कुकर्म किया और किडनैप के 1 घंटे बाद ही बच्चे को जिंदा ही गंगा में फेंक दिया था। बच्चे का शव अभी तक नहीं मिला है। 

परचून की दुकान से आरोपी ने स्कूटी से बच्चे को किया था अगवा
कैंट पुलिस की जांच में सामने आया कि आरोपी अमित ने अपनी स्कूटी से मोहल्ले की परचून की दुकान से बच्चे को अगवा किया। इसके बाद बल्लू, समीर और आमीन के साथ मिलकर लाल कुर्ती और फिर 16 नंबर बंगला के पास इलाके में ले जाकर कुकर्म किया। इसके बाद बच्चे को जिंदा गंगा में फेंक दिया। बच्चे के पिता ने बताया कि परिवार में पत्नी और तीन बच्चे हैं। सबसे बड़े बेटे की किडनैप के बाद हत्या की गई है। अब घर में उससे छोटा बेटा 7 साल और 5 साल की बेटी है। हत्याकांड की जानकारी मिलने के बाद से घर में कोहराम मचा हुआ है। कैंट के मैकूपुरवा में ज्यादातर हिंदू और मुस्लिम रहते हैं। मृतक बच्चा मुस्लिम परिवार से है जबकि अपहरण करने वालों में से दो हिंदू और दो मुस्लिम युवक हैं। इस वजह से इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस कमिश्नर ने पीएसी और पुलिस फोर्स तैनात कर दी है। वहीं इस मामले में ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश तिवारी का कहना है कि कुकर्म के बाद हत्या की आशंका है। इन सभी तथ्यों की जांच की जा रही है और इलाके में रहने वाले चार आरोपियों को अरेस्ट कर लिया गया है।

प्रयागराज में उफनती गंगा नदी में नाव पर बैठ हुक्का पीते-चिकन खाते युवक, Video से मचा हड़कंप

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios