कानपुर पुलिस ने सब्जी विक्रेता को बेरहमी से पीटा, ट्रेन की पटरी में फेंका तराजू, उठाते समय हो गया बड़ा हादसा

| Dec 03 2022, 12:32 PM IST

कानपुर पुलिस ने सब्जी विक्रेता को बेरहमी से पीटा, ट्रेन की पटरी में फेंका तराजू, उठाते समय हो गया बड़ा हादसा

सार

यूपी के जिले कानपुर में पुलिस की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है। दरअसल सिपाही ने सब्जी विक्रेता को बेरहमी से पीटने के बाद उसका तराजू ट्रेन की पटरियों में फेंक दिया। युवक जब उठाने गया तो ट्रेन से उसके दोनों पैर कट गए। 

कानपुर: उत्तर प्रदेश के जिले कानपुर में पुलिस की गुंडागर्दी से एक सब्जी विक्रेता के दोनों पैर कट गए। ऐसा बताया जा रहा है कि हेड कॉन्स्टेबल ने उसे बेरहमी से पीटा और फिर उसका तराजू पटरियों पर फेंक दिया। इसी बीच जब वह तराजू उठाने गया तो ट्रेन की चपेट में आने से उसके दोनों पैर कट गए। घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने युवक को अस्पताल में जल्द से जल्द भर्ती कराया। उसके बाद युवक की हालत गंभीर देखते हुए उसको लखनऊ के पीजीआई में रेफर कर दिया। इस मामले में डीसीपी वेस्ट ने बदसलूकी करने वाले हेड कॉन्स्टेबल को सस्पेंड कर दिया और मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

दहशत में आकर युवक उठाने लगा था तराजू
जानकारी के अनुसार कल्याणपुर साहब नगर का युवक निवासी है। यहां के रहने वाले अहमद का बेटा 18 साल अर्शलान उर्फ लड्डू सब्जी बेचता है। परिवार के लोगों का कहना है कि रोज की तरह वह शुक्रवार की शाम को भी कल्याणपुर क्रॉसिंग के पास जीटी रोड किनारे सब्जी बेच रहा था। इसी बीच इंदिरा नगर चौकी में तैनात दरोगा शादाब खान और हेड कॉन्स्टेबल राकेश ने उससे मारपीट की। सिपाही राकेश ने फुटपाथ पर सब्जी लगाने के चलते पहले युवक को जमकर पीटा और गाली-गलौज करते हुए रेलवे पटरी पर तराजू उठाकर फेंक दिया। सिपाही की इस हरकत से वह दहशत में आ गया। उसके बाद ट्रेन की पटरी में पड़े तराजू को उठाने के लिए भगा पर उसे कुछ समझ ही नहीं आया कि ट्रेन आ रही है। तभी वह तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आ गया और उसके दोनों पैर कट गए।

Subscribe to get breaking news alerts

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताई आंखों देखी कहानी
इस मामले की जानकारी मिलते ही डीसीपी वेस्ट विजय ढुल मौका-मुआयना करने पहुंचे तो आरोप सही पाए गए। सिपाही ने सब्जी विक्रेता का तराजू रेलवे लाइन पर फेंका और उसे बेरहमी से पीटा था। उसके बाद उन्होंने तत्काल प्रभाव से हेड कॉन्स्टेबल राकेश कुमार को सस्पेंड कर दिया। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिए है कि साथ में मौजूद दरोगा की भूमिका की भी जांच की जा रही है। डॉक्टरों का कहना है कि अर्शलान के दोनों पैर कटने के साथ ही अधिक खून बह जाने से उसकी हालत नाजुक है। प्रत्यक्षदर्शीयों का कहना है कि सामने की घटना है। कल्याणपुर थाने के हेड कॉन्स्टेबल राकेश कुमार ने सब्जी विक्रेता को पीटा। उसका तराजू उठाकर रेलवे लाइन पर फेंक दिया। वह तराजू उठाने गया तो ट्रेन की चपेट में आने से दोनों पैर कट गए।

कानपुर: आगजनी मामले की छानबीन में MLA इरफान से अफसरों ने पूछे कई सवाल, बोला- करियर खत्म होने की वजह से था भागा

मैनपुरी, रामपुर और खतौनी में आज से थम जाएगा उपचुनाव के प्रचार का शोर, राजनीतिक दलों ने झोंकी पूरी ताकत

मैनपुरी: डिंपल के लिए चाचा शिवपाल ने मांगा वोट, कहा- विधानसभा चुनाव में अखिलेश सहयोग लेते तो आज CM होते