मैनपुरी, रामपुर और खतौनी में आज से थम जाएगा उपचुनाव के प्रचार का शोर, राजनीतिक दलों ने झोंकी पूरी ताकत

| Dec 03 2022, 09:48 AM IST

मैनपुरी, रामपुर और खतौनी में आज से थम जाएगा उपचुनाव के प्रचार का शोर, राजनीतिक दलों ने झोंकी पूरी ताकत

सार

यूपी के मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र, रामपुर और खतौनी विधानसभा क्षेत्र में शनिवार से उपचुनाव का प्रचार खत्म हो जाएगा। इससे पहले भाजपा, सपा और रालोद ने उपचुनाव के प्रचार में अपनी पूरी ताकत लगा दी है। वहीं सपा अपने मजबूत किले को बचाने के पूरी कोशिश कर रही है।

मैनपुरी: उत्तर प्रदेश की मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र, रामपुर और खतौनी विधानसभा क्षेत्र में आज यानि कि शनिवार शाम से उपचुनाव के प्रचार का शोर थम जाएगा। वहीं बीते शुक्रवार को उपचुनाव प्रचार के अंतिम दिन से पहले सपा, रालोद और भाजपा ने प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी। मैनपुरी और रामपुर में सीएम य़ोगी ने चुनावी सभा कर सपा पर हमला बोला तो वहीं दूसरी ओर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी मैनपुरी में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। बता दें कि 5 दिसंबर को मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र, रामपुर और खतौली विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव के लिए मतदान होना है। इन तीनों क्षेत्रों में शनिवार शाम तक ही रोड शो, रैलियां, सभा, नुक्कड़ सभा से प्रचार हो सकेगा।

सपा के दुर्ग में कमल खिलाने को बेताब है भाजपा
मैनपुरी में बीते शुक्रवार को जहां एक छोर पर सीएम योगी ने मोर्चा संभालते हुए समाजवादी पार्टी पर जमकर हमला बोला तो वहीं दूसरी ओर प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी डटे रहे। दोनों जनता से परिवारवाद को खत्म करने और पिछड़े वर्ग के रघुराज शाक्य के लिए वोट अपील की। वहीं रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने भी खतौली में पार्टी प्रत्याशी मदन भैया के लिए घर घर जाकर प्रचार किया। सपा के दिग्गज नेता आजम खां और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम ने भी सपा प्रत्याशी असीम रजा के समर्थन में प्रचार कर वोट मांगे।

Subscribe to get breaking news alerts

अपना मजबूत किला बचाने में जुटी सपा
भाजपा लोकसभा चुनाव-2024 फतह करने के लिए यूपी में मुख्य विपक्षी पार्टी के किले को ध्वस्त करने में जुटी है। अपनी सियासी जमीन मजबूत करने में जुटी बीजेपी रामपुर, मैनपुरी और खतौनी के उपचुनाव में जीत हासिल कर जनता में बड़ा संदेश देना चाहती है। वहीं समाजवादी पार्टी भी अपने सबसे मजबूत किले को बचाने में कोई कमी नहीं छोड़ रही है। बता दें कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मैनपुरी को बचाने के लिए न सिर्फ चाचा शिवपाल को मनाया बल्कि पूरा सैफई परिवार एकजुट हो गया। साथ ही अखिलेश यादव जनता से भावनात्मक रिश्ता भी कायम कर रहे हैं।

आजम खां के परिवार से कोई सदस्य नहीं लड़ रहा चुनाव
वहीं सपा नेता आजम खां या उनके परिवार को कोई सदस्य इस बार चुनाव मैदान में नहीं उतरा है। भाजपा ने आजम खां के किले को भेदने के लिए अपना उम्मीदवार आकाश सक्सेना को चुनाव मैदान में उतारा है। लेकिन इस दौरान आजम खां के करीबी एक-एक कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। आजम खां रामपुर उपचुनाव में आसिम रजा के लिए वोट मांग रहे हैं। भाजपा रामपुर लोकसभा उपचुनाव में जीतने के प्रति आश्वस्त नजर आ रही है। इसके अलावा भाजपा ने खतौली विधानसभा सीट पर कब्जा बरकरार रखने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है। खतौली विधानसभा सीट पर कब्जा बरकरार रखने के लिए भाजपा फूंक-फूंककर कदम रखती नजर आ रही है। 

मैनपुरी: डिंपल के लिए चाचा शिवपाल ने मांगा वोट, कहा- विधानसभा चुनाव में अखिलेश सहयोग लेते तो आज CM होते