मैनपुरी: डिंपल के लिए चाचा शिवपाल ने मांगा वोट, कहा- विधानसभा चुनाव में अखिलेश सहयोग लेते तो आज CM होते

| Nov 26 2022, 06:57 PM IST

मैनपुरी: डिंपल के लिए चाचा शिवपाल ने मांगा वोट, कहा- विधानसभा चुनाव में अखिलेश सहयोग लेते तो आज CM होते

सार

यूपी की मैनपुरी लोकसभी उपुचनाव को लेकर शिवपाल यादव ने कहा कि बीते विधानसभा चुनाव में अखिलेश ने हमारा सहयोग लिया होता तो आज वह मुख्यमंत्री होते। उन्होंने कहा कि साल 2017 में धोखा हो गया और भाजपा ने हमारा फायदा उठाया। 

मैनपुरी: उत्तर प्रदेश लोकसभा उपचुनाव में पहली बार जसवंतनगर से निकल कर प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मैनपुरी में शनिवार को नुक्कड़ सभाएं की और इस दौरान वह बीजेपी पर हमलावर भी रहे। इस दौरान उन्होंने कहा कि साल 2017 में धोखा हो गया और तब भाजपा ने फायदा उठा लिया। साल 2019 के चुनाव में भी भाजपा ने फायदा उठाया है। आगे कहते है कि अगर बीते विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव हमारा सहयोग लेते तो समाजवादी की सरकार बन जाती और वह मुख्यमंत्री होते। मगर परिवार अब एक है और कोई धोका नहीं होगा। इस बार नेताजी को श्रद्धांजलि के रूप में डिंपल यादव को ऐतिहासिक जीत दिलानी है।

न्याय पालिका दबाव में कर रही है काम
शनिवार को प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव करहल विधानसभा क्षेत्र के ब्लॉक बरनाहल के गांव विनायकपुर और घिरोर ब्लॉक में कोसमा में जनसभाएं करने के साथ ही कहा कि कार्यकर्ता अपने क्षेत्र बांटकर वोट मांगे। उसके बाद मतदान के दिन सुबह सात बजे ही पोलिंग पर लाइन लगा दें। समाजवादी पार्टी के पास इतना वोट है कि सभी लोग डाल दें तो विरोधी की जमानत जब्त हो जाएगी। न किसानों की आय दोगुनी हुई और नाही भ्रष्टाचार खत्म हुआ है। अब तो न्याय पालिका भी दबाव में काम करने लगी है। इतना ही नहीं सपा के कार्यकर्ताओं की गाड़ियां चेक की जा रही है।

Subscribe to get breaking news alerts

बीजेपी पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप 
सपा प्रमुख अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव कहते है कि बीजेपी सरकार में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। नेताजी ने मैनपुरी का विकास कराया है और उनकी कर्मभूमि में जितना विकास सपा ने कराया है, उसका एक चौथाई भी भाजपा नहीं करा सकी है। इसके साथ ही वह आगे कहते है कि नेताजी ने हमेशा जाति और मजहब से उठकर काम किया है। साल 2019 में मैनपुरी की जनता ने नेताजी मुलायम सिंह यादव को पांच साल के लिए चुना था लेकिन समय को कौन टाल सकता है। भाजपा के लोगों ने नेताजी के निधन के तीन महीने भी पूरे नहीं होने दिए और इतनी जल्दी चुनाव की घोषणा करा दी। अगर चुनाव आयोग भी दबाव में कार्य करने लगे तो लोकतंत्र कहां रह जाएगा। 

बेईमान और झूठे लोगों से करना है मुकाबला
शिवपाल सिंह यादव कहते है कि अब बेईमान और झूठे लोगों से मुकाबला करना है। उत्तर प्रदेश में करीब छह सालों से बीजेपी की सरकार है लेकिन एक भी वादा पूरा नहीं किया है। भ्रष्टाचार चरम सीमा पर पहुंच गया है और किसानों की उपज का मूल्य तक नहीं मिल पा रहा है। किसान की खाद भी महंगी कर दी। इस बार सपा की प्रत्याशी व बहू डिंपल यादव को जिताकर उनको जवाब देना है। कोसमा की जनसभा में शिवपाल ने कहा कि सभी बूथ अध्यक्ष व सभी पदाधिकारी एकजुट होकर काम करें। नेताजी को सच्ची श्रद्धांजलि पांच तारीख को डिंपल यादव के पक्ष में मतदान कर देनी है। इस दौरान पूर्व एमएलसी सुभाष यादव, डॉ, रामकुमार यादव, पूर्व विधायक अनिल यादव, रघुराज यादव, राहुल यादव, सर्वेश यादव, पूर्व ब्लॉक प्रमुख आरएस यादव, ब्लॉक प्रमुख नीरज यादव आदि लोग मौजूद रहे।

उत्तर प्रदेश में खूब चल रहा फेक हॉलमार्क का बड़ा खेल, राज्य के कई शहरों में हो रही थी बिक्री, ऐसे हुआ खुलासा

उच्च शिक्षा नीति लाने के लिए योगी सरकार कर रही योजना, हर जिले में नए संस्थान खुलने के साथ हैं ये खास तैयारी

इटावा: BJP नेता का बड़ा दावा, कहा- चाचा-भतीजे का मिलन महज दिखावा, भाजपा के लिए काम कर रही शिवपाल की पार्टी

इटावा: सफाई के बीच कार में लगी भीषण आग, फायर ब्रिगेड की टीम ने ऐसे पाया काबू