Asianet News HindiAsianet News Hindi

साहब बेटे को ढूंढ दीजिए...डीएम के पैर पकड़कर गिड़गिड़ाती नजर आई युवक की मां, जानिए क्या है पूरा मामला

यूपी के जिले मथुरा में एक व्यक्ति के गायब होने पर पत्नी और मां ने डीएम से गुहार लगाई है। युवक की मां ने अपने बेटे के लिए डीएम के सामने रोते हुए पैर पकड़कर बोला कि साहब मेरे बेटे को ढूंढ दीजिए। वहीं दूसरी ओर पत्नी ने नामजदों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। 

Mathua mother held feet of DM and said find the son know the whole matter
Author
First Published Sep 12, 2022, 10:51 AM IST

मथुरा: उत्तर प्रदेश के जिले मथुरा में बेटे और पति की तलाश के लिए दर-दर भटक रही पत्नी और मां ने अब डीएम से गुहार लगाई है। युवक की मां ने डीएम के पैर पकड़ लिए तो वहीं पीड़ित पत्नी ने कुछ नामजद लोगों के खिलाफ पति के साथ अनहोनी की आशंका जताई है। गायब व्यक्ति की पत्नी और मां ने डीएम से रोते हुए गुहार लगाई है कि वह उनके पति और बेटे की तलाश करने के साथ-साथ नामजद आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करें।

दिल्ली-मथुरा रेल ट्रैक पर मिल थे कागजात
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के रामनगर कॉलोनी का है। यहां का रहने  वाला 30 वर्षीय धर्मेंद्र 27 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गया। पत्नी और मां ने बताया कि धर्मेंद्र 27 अगस्त को जिला अस्पताल में भर्ती अपने भाई को देखने आए थे। उसके बाद वह जिला अस्पताल से अपने घर के लिए तो निकले पर पहुंचे नहीं। घरवालों ने धर्मेंद्र की काफी तलाश की लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। कुछ दिन बाद संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हुए धर्मेंद्र की तलाश कर रहे परिजनों को उसका आधार कार्ड और जरूरी कागजात दिल्ली-मथुरा रेल ट्रैक के किनारे अमरनाथ विद्या आश्रम के पास मिले।

मां और पत्नी तलाश के लिए दर-दर रही है भटक
धर्मेंद्र के कागजात इस तरह से मिलने पर परिजनों ने कुछ अनहोनी की आशंका जताई है। उसके बाद परिजन ने गायब होने की सूचना कोतवाली पुलिस को दी लेकिन 16 दिन निकल जाने के बाद भी पुलिस धर्मेंद्र की कोई खोज खबर नहीं कर पाई। इसके साथ ही गायब व्यक्ति के परिजन उसकी तलाश के लिए हर वो जगह जा रहे हैं, जहां उनको मदद मिलने की उम्मीद है पर कोई सफलता नहीं मिल रही है। धर्मेंद्र की तलाश में भटक रही उनकी मां और पत्नी को जब पता चला कि उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक मथुरा आ रहे हैं और जिला अस्पताल का दौरा करेंगे तो वह जिला अस्पताल पहुंच गए।

एसएसपी और डीएम ने दिया कार्रवाई का भरोसा
डिप्टी सीएम के आने से पहले जिला अस्पताल में डीएम, एसएसपी पहुंच गए। पीड़ित मां और पत्नी को रोता देखा तो उन्होंने परेशानी का कारण पूछा। डीएम नवनीत सिंह चहल और एसएसपी अभिषेक यादव जब धर्मेंद्र के परिजन से बात कर रहे थे तभी पत्नी और मां डीएम के पैरों में गिर पड़ी। धर्मेंद्र की मां और पत्नी ने डीएम के पैर पकड़ लिए और उनको तलाशने की गुहार लगाने लगी। डीएम ने दोनों को तत्काल उठाया और मदद का भरोसा दिया है। वहीं एसएसपी अभिषेक यादव ने भरोसा दिया कि वह इस मामले में कार्रवाई करेंगे। जिला अस्पताल में डिप्टी सीएम से मिलने पहुंची धर्मेंद्र की मां और पत्नी की मुलाकात ब्रजेश पाठक से नहीं हो पाई।

युवक की पत्नी ने इन नामजदों पर लगाए आरोप
गायब व्यक्ति धर्मेंद्र उर्फ गोलू की पत्नी शीलेश ने बताया कि उनके पड़ोसी राहुल पुत्र कैलाश व कैलाश पुत्र मुंशीलाल के अलावा भूषण, राणा ने कुछ दिन पहले घर में घुसकर हमला किया था। इतना ही नहीं इस दौरान उन्होंने फायरिंग भी की थी। इस घटना के बाद मामले की रिपोर्ट पुलिस चौकी कृष्णा नगर में धारा 307 में मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसके बाद आरोपियों ने जेल जाते समय ही धमकी दी थी कि वह उसके पति को नहीं छोड़ेंगे। धर्मेंद्र की पत्नी ने आगे बताया कि नामजद लोगों ने ही उसके पति का अपहरण किया और कोई अनहोनी उनके साथ की है।

कानपुर में 22 हजार के चालान पर सदमे में ऑटो चालक ने उठाया खौफनाक कदम, पत्नी ने किया इस बात का खुलासा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios