Asianet News HindiAsianet News Hindi

नेपाली युवक पर भरोसा पड़ा भारी, बेटी की शादी से पहले नौकर ने लगाई 80 लाख की चपत, तिजोरी खाली देख दंग रहे गए सब

यूपी के जिले मेरठ के कमलानगर में बिल्डर की कोठी में वारदात के बाद नेपाल बॉर्डर तक पुलिस टीमें नेपाली नौकर की तलाश में जुट गईं। बेटी की शादी से पहले नौकर ने 80 लाख की चपत लगा दी है। जिसे देखते ही बिल्डर की पत्नी बेहोश हो गई। 

Meerut Nepali youth trusted before daughter marriage servant slapped 80 lakhs everyone stunned to see vault empty
Author
First Published Nov 22, 2022, 4:21 PM IST

मेरठ: उत्तर प्रदेश के जिले मेरठ में नेपाली युवक पर भरोसा करना इतना भारी पड़ जाएगा किसी ने सोचा नहीं था। नेपाली युवक ने शहर के बिल्डर के यहां चोरी की घटना को अंजाम दिया। इसकी सूचना जब से पुलिस को दी गई है आरोपी की तलाश जारी है। चोर को पकड़ने के लिए पुलिस ने नेपाल बॉर्डर तक टीमें भेजकर नेपाली नौकर वीर बहादुर उर्फ वीरू की तलाश में जुट गई है। नेपाल जाने वाले रास्तों से लेकर उत्तराखंड में टीमों को भेजा गया है। इस बात की आशंका है कि आरोपी चोर लखीमपुर वाले रास्ते से नेपाली नौकर भाग सकता है तो यहां भी एक टीम भेजी गई है। अभी तक पुलिस को कोई सुराग नहीं लगा है लेकिन दावा है कि वह नेपाल नहीं पहुंचा होगा।

पुश्तैनी जेवरात को भी चोरों ने नहीं छोड़ा
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के कमलानगर में बिल्डर के घर में चोरी की वारदात को नेपाली युवक ने अंजाम दिया है। नेपाली नौकर ने घटना को अंजाम तब दिया जब उस वक्त बिल्डर का परिवार बेटी की सगाई के लिए दिल्ली गया हुआ था। इसी दौरान नेपाली नौकर ने गार्ड को खीर और परांठा खिलाकर 80 लाख के जेवरात और नकदी लेकर अपने साथियों संग फरार हो गया। इस वारदात की जानकारी लगते ही परिवार मेरठ पहुंचा। वहां उन्होंने देखा कि सारा सामान बिखरा है, तिजोरी टूटी हुई है। इतना ही नहीं पुश्तैनी जेवरात गायब देख बिल्डर की पत्नी बेहोश हो गईं। उन्हें पड़ोस की महिलाओं ने सांत्वना दी। 

बिल्डर की पत्नी घर के हाल देखते ही हो गई बेहोश
नेपाली नौकर वीर बहादुर काफी शातिर निकला। उसने कोठी में वारदात को अंजाम देने से पहले पूरी योजना की। उसने अपनी आईडी या कोई साक्ष्य नहीं दिया, जिससे उसके बारे में कोई जानकारी जुटा सके। यहां तक कि भागने से पहले अपना मोबाइल कोठी में ही बंद कर दिया था ताकि उसकी लोकेशन को पुलिस ट्रेस न कर सके। बिल्डर की बेटी की शादी है। यह बात नेपाली नौकर को पता थी इसलिए पहले से ही पूरी तैयारी की थी। दिल्ली से अपने घर पहुंचने के बाद कोठी में जेवरात के खाली डिब्बे देख बिल्डर प्रदीप गुप्ता की पत्नी रजनी बेहोश हो गई। परिवार के लोगों ने उन्हें संभाला। प्रदीप ने पुलिस को बताया कि तीन दिन पहले ही वह जेवर बैंक के लॉकर से निकालकर लाए थे और उनको बदमाश ले गए।

80 लाख की लूट को लेकर परिवार ने दी तहरीर
इस घटना के बाद सीओ ब्रह्मपुरी बृजेश सिंह मौके पर पहुंचे थे। उन्होंने पीड़ित परिवार से बात की तो पता चला है कि करीब पांच करोड़ का सामान कोठी से गायब है। बिल्डर ने पुलिस को बताया है कि शुरूआत में 80 लाख नकद और तीन करोड़ से अधिक कीमत के जेवरात बताए जा रहे है। इसके अलावा बिल्डर प्रदीप गुप्ता के यहां आए व्यापारी बता रहे थे कि काफी सामान गया है। बदमाशों ने कुछ नहीं छोड़ा। नकदी, ज्वेलरी के अलावा चांदी की तस्वीरें भी ले गए हैं। हालांकि बाद में दी गई तहरीर में 80 लाख की लूट होने की बात कही गई। फिलहाल पुलिस तहरीर के आधार पर चोर को पकड़ने में जुट गई है।

आगरा में इन कॉलोनियों के नाम फिर बदलकर रखे जाएंगे बदबू विहार व घिनौना नगर, जानिए क्या है असल वजह

Ayushi Murder: हत्या के बाद 4 घंटे आयुषी का शव लेकर भटकता रहा पिता, PM रिपोर्ट में चौकाने वाला सच आया सामने

ताजनगरी में लोगों ने फिर बदले कॉलोनियों के नाम, इस वजह से इलाके का नाम रख दिया डेंगू विहार और परेशान नगर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios