Asianet News HindiAsianet News Hindi

पुलिस की करतूत मोबाइल में कैदकर पैसे वसूलने का था काम, चौकी में नहीं हुआ सफल तो थाने पहुंच गया आरोपी

यूपी के जिले मेरठ में चोरी छिपे पुलिस की वीडियो बनाने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी युवक ने बताया कि वह वीडियो बनाकर पैसे वसूलने का काम करता। इतना ही नहीं थाने में वीडियो बनाने से पहले वह चौकी में भी गया था पर वहां सफलता नहीं मिली।

Meerut police work recover money imprisoning mobile if it was not successful outpost accused reached police station
Author
First Published Sep 11, 2022, 1:31 PM IST

मेरठ: उत्तर प्रदेश के जिले मेरठ में पुलिस ने उस आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है जो चोरी छिपे थाने की वीडियो बना रहा था। हैरान करने वाली बात तो तब सामने आई जब उससे पुलिस ने पूछताछ की। पूछताछ में युवक ने बताया कि थाने में जो पुलिस की करतूत होती हैं, उसे मोबाइल में कैद करनी थी। दरअसल बीते दिनों यह आरोपी युवक जेब में अपना मोबाइल छिपाकर गोपनीय तरीके से पुलिस की वीडियो बना रहा था। इतना ही नहीं पुलिस को युवक के मोबाइल की जांच में दो वीडियो भी मिलीं है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कई मामलों में एफआईआर दर्ज कर अरेस्ट किया है।

आरोपी के मोबाइल से पुलिस की मिली दो वीडियो
जानकारी के अनुसार शहर के लिसाड़ीगेट थाने में चोरी छिपे पुलिस की मोबाइल से वीडियो बनाने वाला जावेद गिरफ्तार हो गया है। पूछताछ के दौरान जावेद ने जो पुलिस को बताया सभी सुनकर दंग रह गए। वह इससे पहले भी पुलिस की वीडियो बना चुका है। इसी वजह से उसके मोबाइल में दो वीडियो मिली है। इस पूरे मामले में सोओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने बताया कि लिसाड़ीगेट थाना परिसर में अनाधिकृत तरह से मोबाइल छिपाकर यह वीडियो बना रहा था। उन्होंने आगे बताया कि पूछताछ में युवक ने अपना नाम जावेद निवासी श्यामनगर थाना लिसाड़ीगेट बताया है। 

पैसे वसूलने के लिए आरोपी बना रहा था वीडियो
अरविंद चौरसिया ने आगे बताया कि पुलिस की वीडियो बनाकर उनसे पैसे वसूलने के लिए वीडियो बनाई। इतना ही नहीं आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने थाने के मालखाने की भी वीडियो बनाई है। जहां पर पुलिस के शस्त्र रखे रहते हैं। इसके अलावा आरोपी ने बताया कि इससे पहले चौकी की भी वीडियो बनाने पहुंचा था लेकिन वहां सिपाही और दरोगा दिखाई देने के चलते वीडियो नहीं बना पाया। इसी के बाद लिसाड़ीगेट थाने में वीडियो बनाने पहुंचा। आगे कहते है कि आरोपी जावेद ने यह भी बताया की उसकी योजना वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल करनी थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने, अनाधिकृत तरह से वीडियो बनाने के मामले में एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार किया है।

'वर्ल्ड डेयरी समिट सम्मेलन' में 48 साल बाद पीएम मोदी के द्वारा होगी मेजबानी, नोएडा में सीएम योगी करेंगे स्वागत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios