Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेरठ: मिस्ड कॉल से शुरू हुई प्रेम कहानी का 5 साल बाद दर्दनाक अंत, फोन की चाहत में मां और 2 बच्चियों की मौत

मेरठ में 5 साल पहले शुरू हुई प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत हो गया। स्मार्टफोन के लिए हुए विवाद के बाद मां ने दो बच्चियों के साथ मौत को गले लगा लिया। पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी हुई है। 

meerut sad end of 5 years of love story that started with missed call mother and 2 girls died due to phone
Author
Meerut, First Published Aug 17, 2022, 5:58 PM IST

मेरठ: विवाहिता आयशा और दो नवजात बेटियों की दर्दनाक मौत के बाद ग्रामीणों की रूह कांप गई। मुस्ताक और आयशा की प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत हो गया। मुस्ताक ने बताया कि वह ट्रक चालक है। तकरीबन 5 साल पहले उसके मोबाईल पर एक मिस कॉल आई थी जो कि आयशा की थी, उसके बाद दोनों में बातें होने लगी और मुलाकातों का सिलसिला शुरू हुआ। आगे बढ़ती प्रेम कहानी के साथ ही दोनों ने 4 साल पहले कोर्ट जाकर प्रेम विवाह कर लिया था। 2 वर्ष पूर्व आयशा ने बेटी आईफा को जन्म दिया और उसके बाद से ही दोनों में विवाद होने शुरू हो गए। तकरीबन 6 माह पहले अलफिशा का जन्म हुआ और आयशा का खर्च को लेकर पति से आए दिन विवाद शुरू हो गया। इस बीच आयशा और दोनों बेटियों की मौत के साथ ही यह प्रेम कहानी भी खत्म हो गई।

मौत पर भी नहीं आना चाहते आयशा के परिजन
पुलिस के द्वारा जब आयशा के मायके पक्ष के लोगों को फोन कॉल की गई तो उसके भाई ने अपना मोबाईल ही बंद कर लिया। बताया जा रहा है कि उसके परिवार के लोग आयशा की मौत पर भी आना ही नहीं चाह रहे हैं। हालांकि शीशम के पेड़ पर तकरीबन 12 फीट की ऊंचाई पर महिला ने कैसे दोनों को चढ़ाया होगा और वह खुद कैसे चढ़ी होगी इसकी लेकर कश्मकश जारी है। पहले पेड़ पर दुपट्टे के सहारे दोनों बच्चियों को लटकाने के बाद वह खुद भी लटक गई। तीनों के शवों को देखने के बाद हर कोई हैरान था। इस बीच पुलिस मुस्ताक को भी हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। 

स्मार्टफोन की जिद में शुरू हुआ था विवाद
मुस्ताक का कहना है कि ग्रामीणों ने उसे आयशा औऱ दोनों बच्चों के लटके होने की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस की मदद से सभी शवों को नीचे उतरवाया गया औऱ पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। विवाद वाले दिन का कारण जानने के बाद हर कोई और भी हैरान है। घटना वाले दिन आयशा का बटन वाला फोन टूट गया था और उसने मुस्ताक से स्मार्टफोन दिलाने की जिद की। जबकि मुस्ताक वही फोन ठीक करवाने की बात कर रहा था। इसके बाद दंपत्ति में विवाद हो गया औऱ गुस्से में मुस्ताक ने आयशा को थप्पड़ जड़ दिया। आयशा ने पहले घर के अंदर रखे कपड़ों में आग लगा दी और फिर दोनों बेटियों को लेकर जंगल की ओर निकल गई। काफी खोजबीन के बाद सभी के शव लटके हुए मिले। 

फतेहपुर: आतंकी सैफुल्ला के घर से मिला मैप और डायरी, कई राज से उठ सकता है पर्दा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios