Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेरठ: युवक की चाकू गोदकर हत्या, घटना से नाराज ठाकुर समाज ने आरोपी के घर में लगाई आग, अधिकारियों से की ये मांग

मेरठ में शराब के नशे में दो युवकों ने एक युवक पर चाकू से हमला कर हत्या कर दी। इस घटना से नाराज ठाकुर समाज ने आरोपियों के घर को आग लगा दी। परिवार ने अधिकारियों से मुआवजे और आरोपियों पर गैंगेस्टर कार्रवाई की मांग की है।

Meerut youth was murdered with a knife angry Thakur society set fire to accuseds house family members made this demand
Author
First Published Sep 9, 2022, 11:30 AM IST

मेरठ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में दबंगों ने एक युवक की बेरहमी से हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि शराब के नशे में धुत दो युवकों ने एक युवक पर चाकू से हमला कर दिया। जिसके बाद घायल युवक की मौके पर ही मौत हो गई। इस दौरान पीड़ित युवक की मदद करने और बीचबचाव करने आए युवक के चाचा पर भी दोनों आरोपितों ने हमला कर दिया। यह घटना मोदीपुरम के दुल्हैड़ा गांव की है। इस हमले के दौरान युवक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि मृतक के चाचा वीर सिंह इस हमले में घायल हो गए है। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपित युवक मौके से फरार हो गए।

ठाकुर समाज ने आरोपियों के घर में लगाई आग 
इस घटना पर आक्रोशित ठाकुर समाज के लोगों ने आरोपियों के घरों को आग के हवाले कर दिया। जिससे गांव में तनाव का माहौल बन गया। इसी बीच हत्या और आगजनी की घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को शांत करवाया। पुलिस ने मृतक दीपक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। इस घटना के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सिटी, सीओ दौराला समेत कई थानों की पुलिस फोर्स भी मौके पर पहुंच गई। इसी दौरान पीड़ित पक्ष ने पुलिस से मांग करते हुए कहा है कि जब तक आरोपियों के घर पर बुलडोजर नहीं चलेगा, तब तक परिजन दीपक का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा।

पीड़ित परिवार ने की ये मांग
दीपक की हत्या के बाद आरोपियों के घर में आग लगा दी गई थी। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर फायर ब्रिगेड की टीम को बुलवाया था। करीब एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया। बताया जा रहा था कि जिस घर में आद लगाई गई थी, वह मेन रास्ते से 200 मीटर अंदर गली में था। इसलिए वहां पर पानी का पाइप ले जाने में काफी दिक्कत हुई। प्राप्त जानकारी के अनुसार, मृतक दीपक के चाचा वीर सिंह ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ चुके हैं। वीर सिंह ने सीओ दौराला और एसपी सिटी से कहा कि आरोपियों पर गैंगस्टर के तहत कार्रवाई और घर पर बुलडोजर चलाया जाए और पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपए का मुआवजा दिलाया जाए। इन्होंने आगे कहा कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होंगी तब तक मृतक का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा।

11 साल की बेटी को बर्गर का लालच देकर मां-बाप ने किया ऐसा धोखा, सुनकर रूह कांप उठेगी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios