Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्रेमिका और सहेली के साथ मिलकर की पत्नी का हत्या, प्रीति हत्याकांड की चार्जशीट में पुलिस ने शामिल किए कई सुराग

आगरा के चर्चित प्रीती हत्याकांड मामले में कई सनसनीखेज खुलासे हुए हैं। आरोपी पति ने प्रेमिका और उसकी सहेली के साथ मिलकर प्रीती का निर्ममता से हत्या कर दी थी। पुलिस को इस मामले मे कई सुराग मिले हैं जिसे चार्जशीट में शामिल किया गया है।

Murder of wife together with girlfriend and friend police included many clues in chargesheet of Preeti murder
Author
Agra, First Published Aug 22, 2022, 12:43 PM IST

आगरा: यूपी के आगरा स्थिति नगला हवेली में हुए चर्चित प्रीति हत्याकांड मामले कई सनसनीखेज खुलासे हुए हैं। पुलिस ने इस मामले में अब चार्जशीट पेश की है। मृतका का पति उपेन्द्र उसकी प्रमिका मोनिका और सहेली पल्लवी जेल में सजा काट रहे हैं। नवविवाहिता की दहेज को लेकर हत्या कर दी गई थी। हत्या के आरोपी उपेन्द्र के अलावा नामजद ससुराल वालों के खिलाफ विवेचना प्रचलित है। लोहकरेरा निवासी प्रीती की शादी वर्ष 2021 में उपेन्द्र से हुई थी। शादी के पांच महीने बाद प्रीती की निर्ममता से हत्या कर दी गई थी।

मृतका के ससुर ने दी थी हत्या की जानकारी
उपेन्द्र के पिता ने 22 मई को पुलिस को हत्या की सूचना दी थी। उन्होंने पुलिस को बताया था कि 21 मई की रात वह प्रथम तल पर और उपेन्द्र की दादी दयावती नीचे के कमरे में सो रही थी। सुबह जब वह उठकर नीचे गए तो उन्हें प्रीती और उपेन्द्र के झगड़े के बारे में जानकारी हुई। जब साहब सिंह ने कमरे में झांककर देखा तो प्रीती घायल अवस्था में जमीन पर पड़ी थी और उसके शरीर से खून बह रहा था। साहब सिंह ने पुलिस को बताया कि कहरे में उपेन्द्र के साथ दो और महिलाएं मौजूद थी। 

पुलिस को मिले अहम सुराग
पुलिस ने घटनास्थल पर मौजूद आरोपी उपेन्द्र को गिरफ्तार कर लिया था। मृतका के माता-पिता ने ससुराल पक्ष पर दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया था। पुलिस ने बताया कि चार्चशीट में कई साक्ष्यों को शामिल किया गया है। जिसमें मोनिका और पल्लवी द्वारा उपेन्द्र से फोन पर बात करना और उनका लोकेशन, घटनास्थल से फॉरेंसिक टीम को बाल मिले थे। अनुमान है कि यह बाल हत्यारों के हैं इसके लिए डीएनए कराया जाएगा जिसकी अनुमति कोर्ट से ले ली गई है। 

प्रेमिका के दबाव में की पत्नी की हत्या
प्रीती की हत्या करने के बाद हत्यारों के कपड़ों पर खून के निशान मिले थे। उनके कपड़ों पर लगे खून को प्रीती के खून से मैच करवाया जाएगा और हत्या में इस्तेमाल की गई चाकू को पुलिस ने साक्ष्यों के तौर पर शामिल किया है। पुलिस पूछताछ में आरोपी उपेन्द्र ने अपना जुर्म कुबूल करते हुए कहा था कि वह अपनी प्रेमिका से पत्नी को छोड़ देने की बात कर रहा था। जिसके बाद घटना वाले दिन मोनिका उसके घर आ पहुंची और प्रीती की हत्या का दबाव बनाने लगी। वहीं उसकी सहेली को पैसों का लालच देकर इस घटना में शामिल किया गया था। पल्लवी और मोनिका ने प्रीती के हाथ पकड़े थे और उपेन्द्र ने उस पर चाकू से हमला किया था। जिसके बाद प्रीती की मौके पर मौत हो गई थी।

आगरा: युवक ने गर्भवती पत्नी के साथ की हैवानियत, बिलखते पिता ने ससुराल पक्ष पर लगाए गंभीर आरोप
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios