Asianet News HindiAsianet News Hindi

ट्विन टावर के पड़ोसी दोस्त-रिश्तेदारों के घर ले रहे पनाह, विस्फोट से पहले ही सता रहा यह डर

सुपरटेक के ट्विन टावर में विस्फोटक लगाए जाने की जानकारी के बाद एमराल्ड और एटीएस टावर में रहने वाले परिवार अपना फ्लैट खाली कर दोस्तों और रिश्तेदारों के घर जा रहे हैं। ऐसे में लोग तय डेट से एक दिन बाद अपने घरों में वापस आएंगे। 

Neighbors of Twin Towers are taking shelter in house of relatives this fear was haunting even before explosion
Author
First Published Aug 25, 2022, 2:20 PM IST

नोएडा: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सुपरटेक के ट्विन टावर पूरी तरह से कंट्रोल ब्लास्ट कर ध्वस्त कर दिया जाएगा। सुपरटेक के ट्विन टावर को किस तरह से कंट्रोल ब्लास्ट किया जाएगा। यह कितना सेफ है और इसे ध्वस्त करने में कितना समय लगेगा इन सब बातों की जानकारी और डेमो इसे ध्वस्त करने वाली कंपनी पहले ही दे चुकी है। जब लोगों को इस बात की जानकारी हुई कि ट्विन टावर को गिराने के लिए विस्फोटों में कनेक्शन किया जा रहा है वैसे ही एमराल्ड और एटीएस टावर में रहने वाले परिवारों ने अपने फ्लैट खाली करने शुरू कर दिए हैं।

ट्विन टावर गिरने से पहले खाली हो रहे फ्लैट
हालांकि एमराल्ड और एटीएस टावर में रहने वाले परिवारों को कई मीटिगों में इस बात की जानकारी दी जा चुकी है कि इससे किसी और का कोई भी नुकसान नहीं होगा। 28 अगस्त को लोगों को अपने फ्लैट खाली करने थे। लेकिन इसके बावजूद कुछ परिवारों ने ट्विन टावर गिराने की तय तारीख से पहले ही फ्लैट खालीकर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के घर जा रहे हैं। ट्विन टावर गिराने वाली कंपनियों को मिलाकर एक टास्क फोर्स बनाया गया है। जिसमें ट्विन टावर गिराने वाली कंपनी एडिफिस, नोएडा पुलिस, नोएडा अथॉरिटी और एमराल्ड-एटीएस टावर की सोसाइटी शामिल हैं। एडिफिस कंपनी और नोएडा अथॉरिटी चाहती है कि टावर गिराने पर दोनों सोसाइटी को किसी भी तरह की कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े।

दोस्तों-रिश्तेदारों के घर जा रहे परिवार
एटीएस और एमराल्ड की तरफ से जो भी फैसले लिए जा रहे हैं पहले उन पर टास्क फोर्स मिलकर चर्चा करती है और उसके बाद ही उस प्लान पर मुहर लगाई जाती है। ट्विन टावर को गिराने के लिए एमराल्ड और एटीएस सोसाइटी से अध्यक्ष यूबीएस तेवतिया, भरत चोपड़ा, मोहित गर्ग, नरेश केसवानी और गौरव मेहरोत्रा को भी इसमें शामिल किया गया है। टास्क फोर्स द्वारा तैयार किए गए प्लान के अनुसार एमराल्ड और एटीएस टावर में रहने वाले परिवारों को 28 अगस्त को फ्लैट खाली करने थे। लेकिन जैसे ही लोगों को जानकारी हुई कि ट्विन टावर में विस्फोटक लगाए जा चुके हैं तो वह डर गए। ट्विन टावर में लगे विस्फोटक से पहले ही किसी तरह की अनहोनी के डर से सोसायटी में रह रहे परिवारों ने फ्लैट खाली कर दोस्तों और रिश्तेदारों के घर पनाह लेनी शुरू कर दी है।

पेट्स हॉस्टलों की बुकिंग हुई शुरू
मिली जानकारी के अनुसार, कई परिवार 25 अगस्त की शाम तक फ्लैट खाली कर देंगे। कुछ परिवार पहले ही सोसायटी छोड़कर जा चुके हैं। ऐसे में कोई गाजियाबाद में रहने वाले दोस्तों और रिश्तेदारों के घर जा रहा है तो कोई ग्रेटर नोएडा में किसी परिचित के घर पर रहने जा रहा है। सोसायटी में रहने वाले परिवार रिस्क के चलते 28 अगस्त के बजाय 29 अगस्त को सोसायटी में वापस आएंगे। ऐसे में जिन परिवारों के पास पेट्स हैं वह दोस्तों और रिश्तेदारों के घर जाने से पहले खासा परेशान नजर आए। क्योंकि परिवार जहां जा रहे हैं वहां पेट्स लेकर नहीं जा सकते और सोसायटी की तरफ से उन्हें घर पर छोड़ने की अनुमति नहीं है। इस दुविधा के बीच कुछ लोगों ने नोएडा के कई पेट्स हॉस्टलों में बुकिंग करा ली है। जहां पर वह अपने पेट्स को छोड़कर रिश्तेदारों और दोस्तों के घर जाएंगे।

नोएडा के ट्विन टावर में टेस्ट ब्लास्ट को लेकर तैयारी पूरी, साइरन बजने के बाद घरों में कैद हो जाएंगे लोग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios