नोएडा: 5 मर्डर के बाद प्रेमी को ठिकाने लगाना चाहती थी युवती, सीरियल किलिंग की कहानी सुन पुलिस भी हुई दंग

| Dec 03 2022, 11:47 AM IST

नोएडा: 5 मर्डर के बाद प्रेमी को ठिकाने लगाना चाहती थी युवती, सीरियल किलिंग की कहानी सुन पुलिस भी हुई दंग

सार

यूपी के गौतमबुद्ध नगर के दादरी थाना क्षेत्र के बढ़पुरा गांव निवासी पायल क्राइम सीरियल देखकर अपने माता-पिता की हत्या कर बदला अपने परिवार से लेना चाहती थी। जिसके लिए उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर एक खौफनाक वारदात को अंजाम दिया। 

नोएडा: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर के दादरी थाना क्षेत्र के बढ़पुरा गांव की निवासी पायल ने अपने परिवार से बदला लेने के लिए खुद को मरा हुआ साबित कर दिया। अपनी जगह उसने खुद के कद-काठी की तरह दिखने वाली लड़की की हत्या कर उसे अपने कपड़े पहना कर उसके पास एक सुसाइड नोट छोड़ दिया। लेकिन पुलिस ने उसका पर्दाफाश कर दिया। आरोपित पायल ने पुलिस के सामने अपना जर्म स्वीकार करते हुए बताया कि सीरियल देखकर वह बदला लेने का प्लान बना रही थी। पायल ने बताया कि वह अपनी भाभी, उनके दो भाई और बुआ के बेटे सुनील को मारने के बाद प्रेमी अजय की भी हत्या करने का प्लान बना रही थी। इसके लिए उसने हथियार खरीदने भी शुरू कर दिए थे। सबको खत्म करने के बाद वह नई पहचान के साथ आर्मी ज्वाइन करना चाहती थी। वह खाली समय में वह क्राइम सीरीज देखा करती थी। 

परिवार को मानती थी माता-पिता की मौत का जिम्मेदार
पायल ने पुलिस को बताया कि बड़े भाई की शादी के बाद उनके परिवार में रोज लड़ाई-झगड़ा होने लगा था। पायल के पिता ने बड़े बेटे की शादी के लिए बहन के बेटे सुनील से 5 लाख रुपए उधार लिए थे। वहीं भाभी स्वाति ने माता-पिता को परेशान करती थी और झूठे रेप के केस में फंसाने की धमकी देती थी। जिससे परेशान होकर पायल के माता-पिता ने जहर खाकर सुसाइड कर लिया था। तभी से पायल इन सभी को अपने माता-पिता की मौत का जिम्मेदार मानने लगी थी। उसने बताया कि उसकी सबसे ज्यादा बात फेसबुक फ्रेंड अजय से होती थी। अजय उसके लिए अपनी पत्नी और बच्चों को भी छोड़ने के लिए तैयार था। जब पायल को अजय पर पूरी तरह से भरोसा हो गया तो उसने अपने क्राइम में अजय को भी अपना पार्टनर बना लिया। हालांकि परिवार से बदला लेने के बाद वह अजय को भी मारने का प्लान बना चुकी थी।

Subscribe to get breaking news alerts

मृतका के भाई ने की लिखवाई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट
पायल ने खुद के कद-काठी जैसी लड़की को ढूंढने का जिम्मा अजय को सौंपा था। अजय और पायल की ये तलाश 12 नवंबर को हेमा के साथ खत्म हुई। हेमा कद-काठी में पायल की तरह थी। हेमा की जानकारी निकालने में जुटे अजय को पता चला कि वह कॉलगर्ल है। इस तरह से हेमा को साथ ले जाना उसे ज्यादा आसान लगा। वहीं घटना वाले दिन पायल ने परिजनों को नींद की गोली मिलाकर दे दी और अजय हेमा को लेकर पायल के घर पहुंच गया। घर के अंदर जाते ही हेमा की गला काटकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद पहचान न हो सके इसलिए तेल गरम कर हेमा के चेहरे पर डाल दिया और उसकी लाश के पास सुसाइड नोट छोड़ कर अजय के साथ फरार हो गई। पायल द्वारा मिला सुसाइड नोट देख घरवाले उसे अपनी बहन समझ कर उसका अंतिम संस्कार कर देते हैं। इस दौरान पायल को लगता है कि वह कामयाब हो गई। लेकिन तभी हेमा का भाई पुलिस में बहन के लापता होने की रिपोर्ट लिखवाता है।

पुलिस ने ऐसे किया पूरे मामले का खुलासा
अब पुलिस हेमा को तलाश करती है तो पता चलता है कि हेमा को आखिरी बार अजय के साथ देखा गया है। पुलिस जांच करते हुए पायल के घर पहुंच जाती है। पुलिस को पता चलता है कि जिस दिन हेमा लापता हुई है उसी दिन पायल की भी मौत हुई है। हेमा की आखिरी लोकेशन पायल के घर के पास मिलती है। जिसके बाद पुलिस ग्रामीणों से मामले की पूछताछ करती है। इसके बाद पुलिस अजय को तलाश करती है। 30 नवंबर को पुलिस को अजय गौर सिटी मॉल के पास मिल जाता है। वहीं अजय के साथ पायल को देख पुलिस हैरान रह जाती है। इसके बाद पुलिस दोनों को गिरफ्तार कर थाने ले आती है। जहां पर आरोपी पायल सनसनीखेज मामले का खुलासा करती है, जिसे सुन पुलिस भी दंग रह जाती है।

उच्च शिक्षा नीति लाने के लिए योगी सरकार कर रही योजना, हर जिले में नए संस्थान खुलने के साथ हैं ये खास तैयारी