Asianet News HindiAsianet News Hindi

श्रीकांत से परेशान महिलाओं ने बयां किया अपना दर्द, बाउंसर के साथ स्विमिंग एरिया में घुस जाता था त्यागी

गालीबाज नेता का वीडियो वायरल होने से पहले भी नोएडा की सोसाइटी के लोग काफी परेशान थे। उसकी हरकतों को लेकर कई बार शिकायत की थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। आरोपी त्यागी लोगों को डरा-धमका कर काम को करवाता था।

Noida Women upset with Srikanth expressed their pain Shrikant Tyagi used enter swimming area with bouncer
Author
First Published Aug 9, 2022, 1:53 PM IST

नोएडा: भगोड़े गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी त्यागी के साथ तीन और लोगों को यूपी के जिले मेरठ से गिरफ्तार कर लिया है। इतना ही नहीं नोएडा पुलिस ने श्रीकांत त्यागी की एक और कार को बरमाद किया है, जिसमें विधानसभा का स्टीकर लगा हुआ है। साथ ही गाड़ी में बीजेपी का झंडा भी लगा है। पुलिस के अनुसार यह कार मेरठ के याकूबपुर से बरामद की गई है। पुलिस के अनुसार श्रीकांत त्यागी इसी कार में बैठकर फरार हुआ था लेकिन इस कार को छोड़कर वह आगे निकल गया था। नोएडा के ग्रैंड ओमैक्स सिटी में महिला से बदसलूकी करने वाला श्रीकांत त्यागी कई दिन से फरार चल रहा था। इसकी गिरफ्तारी के लिए गैंग्स्टर के तहत 25 हजार का ईनाम भी घोषित किया गया था। 

श्रीकांत त्यागी का महिला से अभद्रता का वीडियो पांच अगस्त को वायरल हुआ था। जिसमें उसने काले रंग के कपड़े पहने रखे थे और एक महिला को भद्दी-भद्दी गालियां देता नजर आ रहा था। इतना ही नहीं महिला को धक्का (मैनहैंडलिंग) भी देता है। शहर की सोसाइटी में यह पहला मामला नहीं है। उस सोसाइटी में रहने वाली महिलाओं को श्रीकांत त्यागी ने दर-दर भटकने के लिए मजबूर कर दिया है। महिलाओं को पहले से ही उसका रवैया बिल्कुल गुंडे वाला लगता था। हमेशा उसकी गाड़ी तेज स्पीड से सोसाईटी में घुसा करती थी जबकि सोसाइटी में तेज गाड़ी चलाना बिल्कुल मना है, लॉन में बच्चे खलते हैं। हमेशा उसके आगे पीछे गनर, पर्सनल सिक्योरिटी गार्ड और कई बार तो पुलिस भी होती थी। 

त्यागी की इन हरकतों से सोसाइटी के लोग थे काफी परेशान
सोसाइटी में रहने वाली एक महिला का कहना है कि त्यागी की गुंडागर्दी का ये पहला मामला नहीं था। अक्टूबर 2019 में त्यागी के खिलाफ नोएडा अथॉरिटी में शिकायत दर्ज कराई गई और 4 फरवरी को त्यागी को अथॉरिटी ने नोटिस भी दिया था, लेकिन इस नोटिस के अलावा कोई कार्रवाई नहीं हुई। सोसाइटी के रेजिडेंट त्यागी की हरकतों से परेशान होते रहे। वह अक्सर स्विमिंग पूल एरिया में अपने गार्ड्स के साथ घुस जाता था। इससे महिलाएं बहुत अनकम्फर्टेबल महसूस करती थी। जब इसे लेकर हमने उससे बात की तो मुझे फोन करके धमकाता था। इसके अलावा जिम एरिया में वो स्टाफ को गालियां देता और मनमर्जी से टाइमिंग के बाहर जिम खुलवाता था। इसको लेकर भी कई बार शिकायत की लेकिन कुछ हुआ नहीं। महिला आगे कहती है कि सोसाइटी के रेजिटेंड पढ़ने-लिखने और काम करने वाले लोग हैं। त्यागी की गुंडागर्दी से सभी निवासी परेशान थे, लेकिन इस आदमी का रसूख इतना था कि सभी ने मान लिया था कि इस समस्या का कुछ नहीं किया जा सकता। सोसाइटी के सभी निवासी पुलिस और नोएडा अथॉरिटी को शिकायत करते थे, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती थी। जिससे यह बात तो साफ है कि उसे पुलिस और प्रशासन सभी का समर्थन हुआ करता था।

कई सालों से श्रीकांत को लेकर सोसाइटी के लोग कर रहे शिकायत
वहीं दूसरी महिला का कहना है कि दबंगई की वजह से त्यागी का लंबे समय से मेंटेनेंस भी ड्यू चल रहा था। जैसे ही वीडियो वायरल हुआ तो उसके बाद सुबह ही उसकी बहन ने सोसाईटी का करीब डेढ़ लाख रूपया ड्यू जमा कराया है। त्यागी को जब भी ड्यू भरने को कहा जाता तो वह बदतमीजी से बात करता था। सोसाइटी का ड्यू ना भरने की वजह से कोई उसके घर की इलेक्ट्रिसिटी काटी तो उसने बेटे की साइकिल में आग लगा दी थी। यह बात किसी डिलिवरी बॉय ने बताया कि साइकिल में आग लगा दी है। महिला ने आगे कहा कि दशहरे के दौरान जब अतिक्रमण उसने शुरू कर दिया था और उसने एक रेजिडेंट को काफी धमकाने के साथ मारने-पीटने की धमकी भी दी। साल 2019 में त्यागी में शिकायत की थी जिसकी कॉपी भी है लेकिन पुलिस ने उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। सोसाइटी में रहने वाली तीसरी महिला का कहना था कि महिलाओं की पूरी जीत तब होगी जब त्यागी गिरफ्तार होगा। फिलहाल तीन दिन के बाद पुलिस ने श्रीकांत को गिरफ्तार कर लिया है। महिला ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस से त्यागी का बेंसमेंट चेक करने के लिए कहा था लेकिन पुलिस ने मना कर दिया। पुलिस भी त्यागी के साथ मिली हुई है। इतना ही नहीं त्यागी सोसाइटी में गुंडे भेज रहा है और डराने की लगातार कोशिश कर रहा है। महिला का कहना है कि जो गुंडे आ रहे सोसाइटी में अगर वो सीधे लोगों के घर चले जाते और शूट कर दिया होता तो जिम्मेदारी कौन लेता। बुलडोजर की कार्रवाई के बाद भी महिलाओं को खुशी नहीं थी पर त्यागी की गिरफ्तारी के बाद महिलाएं संतुष्ट है।

श्रीकांत त्यागी प्रकरण: एक फोन कॉल और त्यागी तक पहुंची नोएडा पुलिस, जानिए कैसे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios