Asianet News Hindi

UP में मर गई मानवता: रिटायर्ड जज चिल्लाते रहे, पत्नी को बचा लो कोरोना है..थम गईं सांसे, कोई नही आया

मुख्यमंत्री ने पूरे राज्य में 15 मई तक स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। बुधवार को यूपी सरकार ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित कर दी हैं। बता दें कि 8 मई से यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षाएं शुरू होनी थीं।

Out of Corona control in UP, CM Yogi Adityanath issued strict guidelines asa
Author
Lucknow, First Published Apr 15, 2021, 4:35 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh) । उत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर रोके नहीं रुक रही। हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ खुद इसकी चपेट में आ चुके हैं। राज्य की पूरी व्यवस्था चरमरा गई है। वहीं इसी बीच राजधानी लखनऊ से एक बेहद मार्मिक खबर सामने आई है। जहां एक रिटायर्ड जिला जज और उनकी पत्नी कोरोना से संक्रमित हो गए। वह तीन दिन तक इलाज के लिए ऐंबुलेंस बुलाने फोन लगाते रहे, लेकिन अस्पताल से कोई ऐंबुलेंस नहीं आई। आखिरकार उनकी पत्नी की सांसे ही थम गईं। इतना ही नहीं इसके बाद शव घर में पड़ा रहा, लेकिन कोई शव वाहन लाश को लेने नहीं आया।

पूर्व जिला जज की पत्नी की एंबुलेंस के इंतजार में मौत
लखनऊ के गोमती नगर में विनम्र खंड के निवासी पूर्व जिला जज रमेश चंद्रा दो दिन पहले कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। उनकी पत्नी 64 वर्षीय मधु चंद्रा भी संक्रमित थीं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने डीएम से लेकर सीएमओ व कोविड-19 कंट्रोल रूम समेत अन्य अधिकारियों को पचासों फोन कर डाले। लेकिन, हर जगह से अभी तभी व्यवस्था कराने व एम्बुलेंस भेजने का सिर्फ झूठा आश्वासन मिलता रहा। इसी बीत गुरुवार को उनकी पत्नी  दम तोड़ दिया। अब उनकी लाश उठाने तक के लिए कोई नहीं जा रहा। 

सीएम ने और सख्त किए कोरोना के नियम
यूपी में कोरोना बेकाबू हो गया है। पिछले 24 घंटे में 22,439 नए संक्रमित सामने आए हैं, जो अप्रैल में नया रिकॉर्ड है। इसे देखते हुए सीएम ने 10 जिलों में नाइट कर्फ्यू सख्त कर दिया गया है। ये वो 10 जिले हैं जो कोरोना संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। इन जिलों में नाइट कर्फ्यू का समय रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक कर दिया गया है। साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कोविड संक्रमण के लिए की गई एक वर्चुअल मीटिंग में कहा है कि नए मानकों के अनुसार अब जिन जिलों में 2000 से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस होंगे, वहां सख्त नाइट कर्फ्यू लगा दिया जाएगा।
 

इन जिलों में की गई सख्ती
फिलहाल लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, मेरठ, गोरखपुर, झांसी, बरेली, बलिया में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 2000 से ज्यादा है। लिहाजा इन सभी जिलों में आज रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक सख्त नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है।

 

बोर्ड परीक्षाएं भी टलीं
मुख्यमंत्री ने पूरे राज्य में 15 मई तक स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। बुधवार को यूपी सरकार ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित कर दी हैं। बता दें कि 8 मई से यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षाएं शुरू होनी थीं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios