Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखीमपुर खीरी हिंसा: जगह-जगह रोके जा रहे नेता, घरों के बाहर पुलिस का पहरा, छत्तीसगढ़ के सीएम बोले- तानाशाही?

लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे की गाड़ी ने रविवार को किसानों को रौंद दिया था। इसमें 4 किसानों की मौके पर मौत हो गई थी। जबकि कई घायल हो गए थे। घटना के बाद आक्रोशित किसानों ने 3 भाजपा कार्यकर्ता और मंत्री के बेटे की गाड़ी के ड्राइवर की पीट-पीटकर हत्या कर दी। वाहनों में भी आग लगा दी। जिले में धारा 144 लागू कर दी गई।

political parties Leaders not allowed to go after violence in Lakhimpur Kheri Police deployed at houses of leaders in Lucknow
Author
Lakhimpur Kheri, First Published Oct 4, 2021, 9:29 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखीमपुर खीरी। जिले में हिंसा के बाद स्थानीय प्रशासन ने धारा 144 (निषेधाज्ञा) लागू कर दी है। आसपास के जिलों में भी हाईअलर्ट जारी किया। स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख जताया और लोगों से घरों में रहने की अपील की। स्थानीय प्रशासन का दावा है कि हालात काबू में हैं। वहीं, विपक्षी दल के नेता रातभर अलग-अलग इलाकों से लखीमपुर खीरी में किसानों के बीच पहुंचने की कवायद में लगे रहे। पुलिस ने उन्हें जगह-जगह रोकने की भी कोशिश की। प्रियंका गांधी, चंद्रशेखर, सतीश मिश्रा और संजय सिंह को पुलिस ने हिरासत में भी ले लिया। आईए जानते हैं किन-किन नेताओं ने आज लखीमपुर जाने का ऐलान किया है...

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल
छग के सीएम और यूपी विधानसभा चुनाव के वरिष्ठ पर्यवेक्षक भूपेश बघेल ने हिंसा के बाद लखीमपुर में सोमवार को किसानों से मिलने की जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि उत्तर प्रदेश में किसानों के साथ जो वहशी व्यवहार हुआ, वह अक्षम्य है। किसान हूं। किसान का दर्द समझता हूं। इन कठिन परिस्थितियों में उनके साथ खड़े होने के लिए कल सुबह लखीमपुर जाऊंगा। सोमवार सुबह दूसरे ट्वीट में कहा कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को लखीमपुर जाते हुए सीतापुर में गिरफ़्तार कर लिया गया है‌‌। उनके साथ दीपेंदर हुड्डा भी हैं। किसानों की हत्या के बाद अब जनता के लोकतांत्रिक अधिकार भी छीने जा रहे हैं। तीसरे ट्वीट में उन्होंने जानकारी दी कि यूपी सरकार मुझे राज्य में ना आने देने का फरमान जारी कर रही है। क्या यूपी में नागरिक अधिकार स्थगित कर दिए गए हैं? अगर धारा 144 लखीमपुर में है तो लखनऊ उतरने से क्यों रोक रही है तानाशाह सरकार?

दरअसल, यूपी के मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी की तरफ से लखनऊ के अमोसी एयरपोर्ट को एक पत्र जारी किया गया है। इसमें लिखा है- मुझे ये निर्देश मिला है कि 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में घटित घटना के बाद कानून व्यवस्था के क्रम में स्थानीय प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है। ऐसे में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और पंजाब के डिप्टी सीएम को चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डा पर आगमन की अनुमति प्रदान ना करने का कष्ट करें।

लखीमपुर: रातभर चला सियासी ड्रामा, राकेश टिकैत पहुंचे, प्रियंका हिरासत में, चंद्रशेखर को रोका, देखें तस्वीरें

पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा
कांग्रेस नेता और पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा था कि लखीमपुर खीरी में शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे किसानों की हत्या कर दी गई। हाला का जायजा लेने के लिए अधिकारियों की टीम के साथ सोमवार को दौरा करेंगे। मैं सभी से हर कीमत पर शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। मैं सुनिश्चित करूंगा कि दोषियों को सजा मिले।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का लखीमपुर खीरी दौरा प्रस्तावित है। मगर, प्रशासन की तरफ से उनको रोकने की तैयारी है। सोमवार सुबह से ही उनके घर के बाहर पुलिसबल तैनात है। प्रसपा नेता शिवपाल यादव के घर के बाहर भी पुलिस तैनात की गई है। 

आरएलडी नेता जयंत चौधरी
राष्ट्रीय लोकदल पार्टी के नेता जयंत चौधरी भी लखीमपुर जाने के लिए सोमवार सुबह निकले। उनको रास्ते में रोका जा रहा है। चौधरी के साथ बड़ी संख्या में समर्थक भी हैं। इसके अलावा, कांग्रेस की आराधना मिश्रा मोना के घर के बाहर भी पुलिस तैनात कर दी गई। मोना पूर्व राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी की बेटी हैं और प्रतापगढ़ इलाके से विधायक हैं।

BJP सांसद ने अपनी ही सरकार को घेरा, CM योगी से कहा- किसानों के साथ अन्याय और ज्यादती ना हो, CBI जांच भी कराओ

इससे पहले इन्हें रोका गया....

प्रियंका गांधी को हरगांव बॉर्डर से हिरासत में लिया
इधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को हिरासत में लेने पहुंचे पुलिस कर्मियों से जमकर बहस हुई। आखिरकार पुलिस ने हरगांव बॉर्डर पर हिरासत में ले लिया। जेड प्लस सिक्यॉरिटी कवर के बावजूद रात में प्रियंका सारी सिक्यॉरिटी छोड़कर 4 घंटे तक एक ड्राइवर को लेकर छिपते हुए लखीमपुर खीरी के रास्ते पर बढ़ रही थीं। सुबह करीब साढ़े पांच बजे लखीमपुर खीरी के प्रशासन ने उन्हें हिरासत में लिया। प्रियंका ने कहा- 'मेरा अपहरण करोगे? जबरदस्ती धकेलकर ले जा रहे हो मुझे, तुम्हारा कोई हक नहीं है।' 

भीम आर्मी चीफ को खैराबाद टोल प्लाजा पर रोका
भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर ने कहा कि अन्नदाता के हत्यारों को पकड़ने की बजाय यूपी पुलिस खैराबाद टोल प्लाजा पर सैकड़ों पुलिसकर्मी लगाकर हमें रोक कर खड़ी है। हम पीड़ित किसानों को न्याय दिलाने जरूर जाएंगे। किसानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। अब हत्यारों को सजा दिलाकर ही दम लेना है। चाहे वह मंत्री का बेटा हो या फिर कोई और गुर्गा। सभी लोग किसानों का साथ दें।

संजय सिंह को रात 2 बजे रोका गया
आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह को लखीमपुर खीरी जाते वक्त रोक लिया गया। यूपी पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। संजय को सीतापुर के बिसौली में हिरासत में लिया गया। इस दौरान उनकी अधिकारियों से बहस भी हुई। संजय ने कहा- मुझे यहां क्यों रोका गया है। अधिकारी ने कहा कि प्रिवेंटिव रूप से रोका जा रहा है। उन्होंने कहा- रात 2 बजे मुझे अपराधियों की तरह क्यों रोका जा रहा है। मैं एक सांसद हूं और किसानों की मौत पर शोक संवेदना व्यक्त करने जा रहा हूं।

​बसपा नेता सतीश मिश्रा को लखनऊ से नहीं निकल पाए
लखीमपुर खीरी के लिए निकलते समय उत्तर प्रदेश प्रशासन ने लिखित आदेश के बिना ही बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा को उनके घर पर ही रोक दिया गया है। इस दौरान पुलिस से मिश्रा की बहस भी हुई। मिश्रा ने कहा कि मैं शांतिपूर्वक लखीमपुर जाना चाह रहा हूं, मुझे लखीमपुर जाने से क्यों रोका जा रहा। उन्होंने कहा कि मुझे रोकने का आदेश है तो दिखाइये। हम पीड़ित किसानों को न्याय दिलाने जरूर जाएंगे

राकेश टिकैत बोले- आशीष मिश्र उर्फ मोनू को गिरफ्तार करें
लखीमपुर खीरी पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने किसानों के साथ चर्चा करके अपना मांग पत्र प्रशासन को सौंप दिया। इसमें अजय कुमार मिश्र के पुत्र आशीष मिश्र उर्फ मोनू पर एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी मुख्य मांग है। पुलिस ने मंत्री टेनी और बेटे आशीष के खिलाफ रात में ही एफआईआर दर्ज कर ली। राकेश टिकैत ने मांग की है कि परिजनों को 1-1 करोड़ रुपए मुआवजा दें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios