Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी में भगवान पर राजनीति जारी, दिनेश शर्मा ने परशुराम की प्रतिमा का किया अनावरण

उन्होंने कहा कि कुछ लोग मौसमी भक्त होते हैं और कुछ लोग चुनावी भक्त होते हैं, मगर हमारे लिए आस्था का विषय है। भगवान परशुराम का पहले हमने कानपुर में पार्क का निर्माण किया, इसके बाद आज प्रतिमा का अनावरण हो रहा है। हमने परशुराम चौक भी बनाया। लेकिन हम प्रचार नहीं करते।

Politics continues on God Dinesh Sharma unveiled the statue of Parashuram
Author
Lucknow, First Published Jan 7, 2022, 4:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ: ब्राह्मण समाज को अपने पक्ष में रखने वाली भाजपा विधानसभा चुनाव (vidhansabha Chunav) से पहले कोई लापरवाही नहीं बरतना चाहती है। वोटरों को खुश करने के लिए पार्टी अपनी जी तोड़ मेहनत कर रही हैं। इन्हीं तैयारियों को आगे बढ़ाते हुए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा (Deputy CM Dinesh Sharma) ने शुक्रवार को लखनऊ में परशुराम की प्रतिमा का अनावरण किया। इस मौके पर उन्होंने विपक्ष को बहुत खरी खोती सुनाई। उन्होंने कहा कि कुछ लोग मौसमी भक्त होते हैं और कुछ लोग चुनावी भक्त होते हैं, मगर हमारे लिए आस्था का विषय है। भगवान परशुराम का पहले हमने कानपुर में पार्क का निर्माण किया, इसके बाद आज प्रतिमा का अनावरण हो रहा है। हमने परशुराम चौक भी बनाया। लेकिन हम प्रचार नहीं करते।

हम सिर्फ सम्मान देते हैं
योगी सरकार (Yogi Government) के ब्राह्मण मंत्री और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्म ने लखनऊ में कृष्ण नगर के सहसाबीर मंदिर भगवान परशुराम की प्रतिमा का अनावरण करने पहुंचे। अनावरण के बाद डिप्टी सीएम ने कहा कि हम सिर्फ सम्मान देते हैं। भगवान परशुराम विष्णु के अंशावतार हैं। सारे धर्म का आदर करते हैं। भगवान परशुराम ने समाज में समानता के लिए काम किया है। हम राम में परशुराम का और परशुराम में भी राम का वास पाते हैं। जैसे भगवान राम ने शबरी के जूठे बेर खाए थे, ठीक वैसे ही पीएम मोदी और सीएम योगी (Modi-Yogi) हर वर्ग के लिए काम कर रहे हैं।
 
तिलक तराजू और तलवार..
बसपा (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) पर निशाना साधते हुए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि  जो लोग कहते थे तिलक तराज़ू और तलवार, इसके आगे तो मैं कह भी नहीं सकता। यह नारा देने वाले लोग आज पूजा पाठ करते नज़र आ रहे हैं। राम के अस्तित्व को नकारने वाले आज मंदिर जा रहे हैं, जो लोग राम का नाम लेना संप्रदायिकता का प्रतीक मानते थे, जिन लोगों ने गोलियां चलवाईं। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण एक जाति नहीं है, जीवन जीने की प्रवृति है, जो सभी के सुख की कामना करता है। जन्म से लेकर मृत्यु तक लोगों के लिए आराधना करता है। लेकिन लोग आज ब्राह्मण को जाति की तरह देखकर अपनी तरफ करने की कोशिश कर रहे।

पीएम मोदी ने हाल में भी 5000 सक्वायर फ़ीट के काशी कारिडोर का उद्घाटन करते हैं, उसी वक्त एजेंडा तय हो जाता है कि यह देश धर्म का सम्मान करने वाले लोगों का है। पंजाब की सरकार ने जिस तरीक़े पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक की है, वो नहीं जानते कि पीएम मोदी के साथ देश के लोगों का प्रेम और आशीर्वाद है। बता दें कि इससे पहले अखिलेश यादव ने भी भगवान परशुराम की प्रतिमा का अनावरण किया था।
अयोध्या में CM योगी ने बांटे स्मार्टफोन-टैबलेट, कहा- देश में छा जाएगा यूपी का युवा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios