Asianet News HindiAsianet News Hindi

गुरुकुल के विद्यार्थियों ने निकाली विशाल रैली, काशी को मांस मदिरा मुक्त क्षेत्र घोषित करने की हुई मांग

काशी में गुरुकुल के छात्रों ने रैली निकालकर मांस-मदिरा मुक्त क्षेत्र घोषित करने की मांग की। इस दौरान सैकड़ों बटुकों ने पं. राम भरत शास्त्री के नेतृत्व में सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ भी किया। 

Students of Gurukul took out a huge rally demanding to declare Kashi as a meat liquor free zone
Author
First Published Sep 24, 2022, 1:48 PM IST

अनुज तिवारी
वाराणसी:
भोले की नगरी काशी के अंतरगृही क्षेत्र में मांस और मदिरा पर प्रतिबंध लगाने की मांग अब तेज हो रही है। इसको लेकर  शनिवार को अनोखे कार्यक्रम का आयोजन हुआ। आगमन सामाजिक संस्था और ब्रह्म सेना के पहल पर कश्मीरीगंज स्थित राम जानकी मंदिर में देव मूर्तियों के विधिपूर्वक पूजन अर्चन के बाद सैकड़ों बटुकों ने पं. राम भरत शास्त्री के अगुवाई में सामूहिक हनुमान चालीसा का पाठ किया। 13 बार के सामूहिक पाठ के बाद बटुकों ने जनजागरण यात्रा की शुरुआत की जिसके जरिए लोगो को भी इस अभियान से जोड़ने और सरकार तक़ अपनी आवाज पहुंचाने का प्रयास किया।

नारियल तोड़कर की गई पदयात्रा की शुरुआत, बांटे पम्पलेट
पदयात्रा की शुरुआत प्रख्यात विद्वान प्रो. चंद्रमौली उपाध्याय,काशी विद्वत परिषद के प्रो. राम नारायण द्विवेदी,बीएचयू के ज्योतिष विभाग के प्रो. विनय पांडेय और प्रोफेसर सुभाष पांडेय ने नारियल तोड़कर की। जिसके बाद हर हर महादेव के उदघोष के साथ सैकड़ो बटुकों की दो टोली हाथों में नारा युक्त तख्ती और सनातनी झंडा लेकर काशी को मांस मदिरा से मुक्त करने की आवाज को बुलंद की । "काशी वासी करें पुकार। मांस - मदिरा मुक्त हो काशी दरबार।।" और "दिव्य काशी, पवित्र काशी। मांस - मदिरा मुक्त हो काशी ।।" के नारे से लोगों को जागरूक किया ।  इस अभियान से ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़े इसके लिए पम्पलेट भी बांटे गये । 11 किलोमीटर चलने वाली यह श्री राम यात्रा राम मंदिर से शुरू होकर कबीर नगर,दुर्गाकुंड, गुरुधाम होते हुए वापस राम मंदिर पहुंची जबकि दूसरा दल राममंदिर से गुरुधाम सोनारपुरा भेलुपूर चेतमणि होते हुए राममंदिर पर समाप्त हुई।

50 हजार लोगों से भरवाया जा रहा शपथपत्र 
पवित्र काशी अभियान के संयोजक एवं आगमन सामाजिक संस्था के संस्थापक सचिव डॉ सन्तोष ओझा ने बताया कि हमारी मांग है योगी सरकार धर्म नगरी काशी के अंतगृही क्षेत्र में मांस और मदिरा के बिक्री पर रोक लगाए और सप्तपुरी में श्रेष्ठ मोक्ष नगरी काशी को मांस मदिरा मुक्त क्षेत्र घोषित करें। बताते चले कि पवित्र काशी अभियान के सफलता के लिए आगमन सामाजिक संस्था और ब्रह्म सेना जनसमर्थन के लिए 50 हजार लोगों से शपथ - पत्र भरवा रही है। जिसकी शुरुआत पवित्र मास सावन से किया गया है और अब तक़ दो हजार पत्र प्राप्त हो चुके है। इस आयोजन में वी पी सिंह, राहुल गुप्ता, लव तिवारी, शोभनाथ, अभिषेक जायसवाल,रामबली मौर्या,अजय दूबे, अर्जुन मौर्य, श्रवण मौर्य,नवरत्न कुमार और अमित केशरी शामिल रहे।

दीवारें जमींदोज और पेड़ पर टंगी मिली टीन, अमरोहा में आतिशबाजी फैक्ट्री में विस्फोट के बाद उड़ गई लोगों की नींद

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios