Asianet News HindiAsianet News Hindi

सुल्तानपुर: युवक के हेलमेट न लगाने पर दीवान ने जब्त किया डीएल, रिश्वत लेकर छोड़ा, SP ने लिया एक्शन

सुल्तानपुर में वाहन चेकिंग के दौरान दीवान द्वारा एक युवक से रिश्वत लेने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। मामले को संज्ञान में लेते हुए एसपी ने जांच के निर्देश दिए हैं। वहीं दीवान मामले पर अपनी सफाई पेस कर रहे हैं।

Sultanpur Diwan confiscated DL for not wearing helmet of youth left with bribe SP took action
Author
First Published Sep 9, 2022, 6:39 PM IST

सुल्तानपुर: उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले से वर्दी को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। आए दिन पुलिसकर्मियों द्वारा रिश्वत लेने की खबरें सामने आती रहती हैं। इसी कड़ी में अब अखंडनगर का एक मामला सामने आया है। वाहन चेकिंग के दौरान दीवान रिश्वत लेते हुए कैमरे में कैद हो गया। वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। घटना का वीडियो वायरल होने पर दीवान तरह-तरह की सफाई पेश कर रहा है। वायरल वीडियो के आधार पर एसपी सोमेन बर्मा ने मामले की जांच करने के आदेश दिए हैं।

वीडियो हुआ वायरल 
रिश्वत लेते हुए दीवान का वीडियो बीते बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। अंबेडकरनगर की सीमा पर स्थित नेमपुर घाट पर वाहन चेकिंग लगाई गई थी। इसी बीच महेशपुर निवासी इंदु कुमार बाइक लेकर आ गए तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। हेलमेट न पहनने पर दीवान राधेश्याम यादव ने बाइक सवार का ड्राइविंग लाइसेंस ले लिया। इसके बाद जब इंदु कुमार ने दीवान को पैसे दिए तो उन्होंने उसका लाइसेंस वापस कर दिया। रिश्वत देने के दौरान युवक ने घटना का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

दीवान ने दी मामले पर सफाई
गुरुवार शाम वायरल हुए वीडियो में साफतौर पर देखा जा सकता है कि पैसे लेने के बाद दीवान साहब ने युवक की डीएल उसे वापस किया है। इस मामले पर दीवान राधेश्याम यादव ने सपाई पेश करते हुए कहा कि युवक को चाय लाने के पैसे दिए गए थे। इस दौरान जो पैसे बच गए थे युवक उन्हें लौटा रहा था। हालांकि रिश्वत लेन-देन का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले कादीपुर कोतवाली में तैनात दारोगा का एक ऑडियो वायरल हुआ ता। जिसमें वह चरित्र प्रमाण पत्र पर रिपोर्ट लगाने के नाम पर रुपये मांग रहे थे।

पहले भी लग चुके हैं आरोप
कादीपुर कोतवाली में तैनात दरोगा पर यह संगीन आरोप खुद विधायक ने लगाए थे। इस घटना को लेकर विधायक और दरोगा के बीच में काफी बहस भी हुई थी। जब अधिकारियों को मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने दरोगा को वहां से हटा दिया था। हालांकि दरोगा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। वहीं करौंदीकला थाने में तैनात दरोगा पर मारपीट के मामले में रिशेवत लेकर रिपोर्ट लगाने का वीडियो वायरल हुआ था। इस वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस कप्तान ने दरोगा को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया था।

सुल्तानपुर में दिनदहाड़े बदमाशों ने लूटी महिला की चेन, विरोध करने पर युवक का किया ऐसा हाल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios