Asianet News Hindi

UP में पत्रकार की हत्या: एक दिन पहले ADG को पत्र लिखकर बताया था जान को खतरा, फिर भी पुलिस ने की अनदेखी

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक टीवी पत्रकार की हत्या कर दी गई।  इस मामले पर कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला है। साथ ही उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

tv journalist  sulabh srivastava murder in pratapgarh then priyanka gandhi attacks yogi government kpr
Author
Pratapgarh, First Published Jun 14, 2021, 8:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से एक टीवी पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है। परिजनों ने आरोप लगाया है कि शराब माफियाओं ने सुलभ की हत्या की है। क्योंकि एक दिन पहले पत्रकार ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस से खुद की सुरक्षा की मांग की थी। अब इस मामले पर कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों ने योगी सरकार पर हमला बोला है।

पत्नी ने बताई पूरी कहानी..मेरे पति को मारा गया
दरअसल, सुलभ श्रीवास्तव रविवार शाम को किसी खबर को कवर करने के लिए घर से निकले थे। लेकिन रात करीब 11 बजे उनके एक्सीडेंट की जानकारी परिजनों को मिली। उनके सिर और पेट में गंभीर चोटें आईं थीं। जब तक परिजन अस्पताल पहुंचे तब तक सुलभ दम तोड़ चुके थे। सुलभ की पत्नी रेणुका श्रीवास्तव ने आरोप लगाया है कि उनके पति पिछले की दिनों स शराब माफिया के खिलाफ खबरें लिख रहे थे। जिसके बाद उन्हें माफियाओं ने जान से मारने की धमकी दी थी। इतनी ही नहीं सुलभ ने इस मामले में प्रयागराज जोन के एडीजी को पत्र लिखकर शराब माफियाओं के हाथों हत्या का अंदेशा जताया था।

पुलिस हत्या को बता रही हादसा
प्रतापगढ़ पुलिस पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की हत्या को एक हादसा बता रही है। पुलिस का कहना है कि रविवार देर रता सड़क किनारे सुलभ पड़े मिले थे। उनको देखकर लगता है कि जैसे उनका भीषण एक्सीडेंट हुआ हो। लेकिन विपक्षी पार्टियों के कई सीनियर नेताओं के हमले के बाद पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है।

शराब माफिया यूपी में खेल रहें हैं मौत का तांडव: प्रियंका
वहीं इस मामले पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर योगी सरकार पर हमला बोला है। लिखा-उत्तर प्रदेश सरकार सोई हुई है। उन्होंने योगी सरकार से सवाल करते हुए कहा कि क्या जंगलराज को पालने-पोषने वाली उप्र सरकार के पास पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव जी के परिजनों के आंसुओं का कोई जवाब है? शराब माफिया अलीगढ़ से प्रतापगढ़ तक, पूरे प्रदेश में मौत का तांडव करें। उत्तर प्रदेश सरकार चुप। पत्रकार सच्चाई उजागर करे, प्रशासन को खतरे के प्रति आगाह करे।

अखिलेश यादव ने की उच्च स्तरीय जांच की मांग
प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर यूपी सरकार पर निशाना साधा है और मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। उन्होंने ट्वीट कर  लिखा- एक कथित हादसे में एक टीवी पत्रकार की संदिग्ध मौत बेहद दुखद है। भावभीनी श्रद्धांजलि! भाजपा सरकार इस मामले में एक उच्च स्तरीय जांच बैठाकर परिजन और जनता को ये बताए कि पत्रकार द्वारा शराब माफिया के हाथों हत्या की आशंका जताने के बाद भी उन्हें सुरक्षा क्यों नहीं दी गई।

आम आदमी पार्टी ने भी योगी सरकार पर साधा निशाना
पत्रकार की मौत को लेकर आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने निशाना साधा है। उन्होंने लिखा-शराब माफियाओं के ख़िलाफ़ खबर चलाने के कारण यू पी में एक पत्रकार की हत्त्या हो जाती है जबकि एक दिन पहले सुलभ जी ने ADG को पत्र लिखकर हत्त्या की आशंका जताई थी लेकिन सब सोते रहे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios