Asianet News Hindi

पत्नी का अंतिम संस्कार करने पीड़िता के चाचा को मिली 18 घंटे की पैरोल, रेप केस की मुख्य गवाह थी महिला

उन्नाव रेप केस में पीड़िता के चाचा केअंतिम संस्कार करने के लिए 18 घंटे की पेरोल मिली है। परिजनों की याचिका पर लखनऊ हाईकोर्ट ने पैरोल दी है। पैरोल का समय बुधवार सुबह से शुरू होकर रात 12 बजे तक रहेगा। बता दें, 28 जुलाई को उन्नाव रेप केस की पीड़िता की चाची और मौसी की सड़क हादसे में मौत हो गई थी।  

Unnao rape victims condition critical, government ready to hand over case CBI
Author
Lucknow, First Published Jul 30, 2019, 8:02 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. उन्नाव रेप केस में पीड़िता के चाचा केअंतिम संस्कार करने के लिए 18 घंटे की पेरोल मिली है। परिजनों की याचिका पर लखनऊ हाईकोर्ट ने पैरोल दी है। पैरोल का समय बुधवार सुबह से शुरु होकर रात 12 बजे तक रहेगा। बता दें, 28 जुलाई को उन्नाव रेप केस की पीड़िता की चाची और मौसी की सड़क हादसे में मौत हो गई थी।  उन्नाव रेप पीडि़ता सड़क हादसे में अब यूपी सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है। पीड़िता के चाचा की तरफ से मुकदमा दर्ज कराने के बाद सीबीआई जांच की मांग तेज हो गई थी। जेल में पीड़िता के चाचा से मिलने गई डीएम नेहा शर्मा से लिखित में सीबीआई जांच की मांग की थी। जिसके बाद उन्होंने इस अनुशंसा को लखनऊ भेजा था। 

पीड़िता की हालात गंभीर

वहीं हादसे के बाद से ही रेप पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। जबकि डॉक्टरों के मुताबिक, एक्सीडेंट की वजह से पीड़िता की फेफड़ो को नुकसान पहुंचा है। उसका ब्लड प्रेशर लगातार गिरावट आ रही है। वहीं इसके अलावा कॉलर की हड्डी, पसलियां, सीधे हाथ और पैर में फ्रैक्चर है। 

बता दें, रविवार को कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता की गाड़ी को ट्रक से एक्सीडेंट हो गया था। जिसमें पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई थी। पीड़िता और वकील का ट्रामा सेंटर में इलाज चल रहा है। वहीं योगी आदित्यनाथ सरकार ने कहा है, कि अगर उन्नाव रेप पीड़िता चाहती है तो उनकी सरकार राय बरेली मामले में सीबीआई जांच कराने के लिए तैयार है। 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios