Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP में घर गिरा और खत्म हो गया परिवार: सोते वक्त भरभराकर ऊपर गिरा तीन मंजिला मकान, 5 की मौत, 6 बुरी तरह जख्मी

यूपी (Uttar Pradesh) के जौनपुर (Jaunpur) में रात करीब एक बजे हादसा हुआ। इसमें 5 लोगों की मौत हो गई और 6 लोग जख्मी हो गए। सूचना मिलने पर प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे और रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। मलबे में पूरा परिवार दब गया था। सभी को बाहर निकालने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।

UP Jaunpur all members of family buried under rubble and died when three storey house collapsed sleeping in house
Author
Jaunpur, First Published Oct 22, 2021, 11:57 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जौनपुर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जौनपुर (Jaunpur) में गुरुवार देर रात बड़ा हादसा हो गया। यहां एक तीन मंजिला मकान भरभराकर गिरने से पूरा परिवार मलबे में दब गया। मौके पर 5 लोगों की मौत हो गई। जबकि 6 लोग जख्मी हो गए हैं। इनमें से 3 की हालत गंभीर है। वहीं, मरने वालों में एक पड़ोसी भी शामिल है। शुक्रवार सुबह तक प्रशासन ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया।

हादसा गुरुवार रात 11:30 बजे का है। यहां कोतवाली इलाके में बड़ी मस्जिद के पीछे मोहल्ला रोजा अर्जन में जमालुद्दीन का तीन मंजिला मकान है। देर रात खाना खाने के बाद कुछ लोग सोने चले गए। जबकि कुछ लोग बैठकर घर में बातचीत कर रहे थे। इसी बीच, रात में भरभराकर पूरा मकान परिवार के सदस्यों पर गिर गया। मौके पर भीड़ जुट गई। लोगों ने मलबे से परिजन को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। तब तक पुलिस पहुंच गई और रेस्क्यू शुरू कर दिया। मलबे में दबकर हेरा (10 साल), स्नेहा (12 साल), चांदनी (18 साल), शन्नो (55 साल), गयासुद्दीन (17 साल), मोहम्मद असाउददीन (19 साल) जख्मी हो गए। जबकि जमालुद्दीन की पत्नी संजीदा (37 साल), बेटा मोहम्मद कैफ  (8 साल), बेटा मोहम्मद सैफ  (14 साल), बेटी मिस्बाह (18 साल) और पड़ोसी अजीमुल्लाह (68 साल) को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। 

जब अचानक धंसने लगी जमीन, 10 से 15 फीट तक समां गए दर्जनों लोग, देखते ही देखते मचा हाहाकार

हादसे में 11 लोग मलबे में मिले, इनमें 5 की मौत
पुलिस का कहना है कि मलबे में तलाश की जा रही है। घायलों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा और पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी मौके पर पहुंचे। मौके पर पुलिस और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी पहुंचे और राहत-बचाव कार्य शुरू किया। घटना में कुल 11 लोग घायल हुए थे। इनमें 5 लोगों की मौत हो चुकी है। घायलों की हालत गंभीर है। 

बड़े भाई का परिवार समेत 6 जख्मी
कमरुद्दीन और जमालुद्दीन दोनों सगे भाई थे। मकान में दोनों के परिवार एक साथ रहते हैं। जमालुद्दीन की पत्नी तीन बच्चे की मौत हो गई है। जबकि कमरुद्दीन के बच्चे घायल हैं। कमरुद्दीन की कोरोना की पहली लहर में मौत हो गई थी। घटना में पत्नी शन्नो, बेटा गयासुद्दीन, बड़ा बेटा यासुद्दीन, बेटी चांदनी जख्मी हैं। जबकि जमालुद्दीन की बेटी स्नेहा (10 साल) बेटी हेरा (6) भी जख्मी हैं।

हरियाणा में बड़ा हादसा: छोटे बच्चों की क्लास के दौरान स्कूल की छत गिरी, मलबे में दबे 25 छात्र-छात्राएं

मकान कच्ची दीवार पर खड़ा था
पड़ोसियों का कहना था कि मकान कच्ची दीवार पर खड़ा था। उसके ऊपर दो मंजिला पक्का मकान बना था। काफी पुराना होने की वजह से काफी जर्जर हो गया था। पड़ोसियों के मुताबिक, रोटी बनाने के काम से परिवार का खर्च चल रहा था। आर्थिक स्थिति काफी खराब थी। मकान का मलबा बिखरा पड़ा हुआ है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios