Asianet News Hindi

भाजपा कार्यकर्ता ने मस्जिद में किया हनुमान चालीसा का पाठ, लेकिन मौलाना को भुगतनी पड़ गई इसकी सजा

मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने बवाल अभी थमा नहीं था कि इस बीच बागपत की मस्जिद में एक हिंदु युवक का हनुमान चालीसा का पाठ करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं  मुस्लिम समाज ने मौलाना अली हसन को मस्जिद से निकाल दिया है।

uttar pradesh after mathura now recitation of bjp leader read hanuman chalisa in mosque baghpat kpr
Author
Baghpat, First Published Nov 5, 2020, 3:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बागपत, उत्तर प्रदेश जिस तरह से मामले सामने आ रहे हैं उनको देखकर ऐसा लगता है कि यहां मजार और मस्जिदों में हनुमान चालीसा पढ़ने का सिलसिला चल पड़ा है। मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़े जाने के बाद अब बागपत जिले से मामला सामने आया है। जहां एक मस्जिद में भाजपा कार्यकर्ता ने हनुमान चालीसा का पाठ किया। इतना ही नहीं युवक ने पाठ का टेलीकास्ट सोशल मीडिया पर लाइव किया।

मौलाना की इजाजत से युवक ने पढ़ा हनुमान चालीसा
दरअसल, यह मामला जिले के विनयपुर गांव की मस्जिद में मंगलवार को देखा गया, जहां पर भाजपा कार्यकर्ता मनुपाल बंसल ने मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ किया। हालांकि मनुपाल का कहना है कि उसने मस्जिद के इमाम मौलाना अली हसन की अनुमति लेने के बाद ही यहां बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ किया है। पुलिस ने इस हिंदू युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

पाठ के बाद मौलाना को मस्जिद से निकाला
बता दें कि हिंदु युवक के हनुमान चलीसा का पाठ करने की सजा मस्जिद के इमाम को भुगतनी पड़ी। जहां मुस्लिम समाज ने मौलाना अली हसन को मस्जिद से निकाल दिया है। बुधवार को मुस्लिम समाज की बैठक में यह फैसला लिया गया। जिसके बाद इमाम चुपचाप अपना सामान लेकर गाजिया बाद चले गए। 

मौलाना ने कहा-हिंदु युवक मेरा दोस्त है
वहीं मनुपाल का कहना है कि इमाम को निकालना गलत है। उन्होंने हिंदू-मुस्लिम के भाईचारे के लिए मुझे हनुमान चालीसा का पाठ करने की अनुमित दी थी। इतना ही नहीं इमाम ने भी मनुपाल के खिलाफ की गई कार्रवाई का विरोध किया। पुलिस से कहा कि वह युवक इसी गांव का रहने वाला है और पहचान वाला है, इसलिए मैं चाहता हूं कि उस पर कोई कानूनी कार्रवाई ना हो।


(29 अक्टूबर को दो युवकों ने मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ी थी)
 
एक सप्ताह में 4 मामले एक जैसे सामने आए
बता दें कि सबसे पहले मामला 29 अक्टूबर को मथुरा के नंदबाबा मंदिर में सामने आया था, जहां  2 मुस्लिम युवक ने नमाज पढ़ी थी। जिसके तहत पुलिस ने एक  आरोपी को हिरासत में भी लिया था। इसके बाद गांव के लोगों ने मंदिर को गंगाजल से धोया था।  वहीं इसके बाद मथुरा में ही कुछ 4 हिंदु युवकों ने एक मस्जिद में  हनुमान चलीसा का पाठ किया था। पुलिस ने इनको भी गिरफ्तार कर लिया था। फिर आगरा में एक युवक ने मजार में हनुमान चालीसा का पाठ किया था। अब इस तरह एक सप्ताह के अंदर यह चौथा मामला सामने आया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios