Asianet News HindiAsianet News Hindi

Diwali In Ayodhya : आज अयोध्या में भव्य दीवाली, जलेंगे 12 लाख दिए..ये हैं वह लोग जो रामनगरी को चमका रहे

उत्तर प्रदेश की सरकार 12 लाख दिए जलाकर 'दीपोत्सव' मनाएगी। योगी सरकार एक साथ इतने दिए जलकार एक नया रिकॉर्ड बनाने जा रही है। इसके लिए रामलला की जन्मभूमि दुल्हन की तरह सजकर तैयार हो चुकी है। 

uttar pradesh diwali 2021 deepotsav in ayodhya yogi government celebrate on grand festival of ram janm bhumi
Author
Ayodhya, First Published Nov 3, 2021, 9:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अयोध्या (उत्तर प्रदेश). भगवान राम की नगरी अयोध्या ((ayodhya) में आज दिवाली (Diwali) के दिन पहले नया विश्व कीर्तिमान रचने वाला है। उत्तर प्रदेश की सरकार 12 लाख दिए जलाकर 'दीपोत्सव' (deepotsav in ayodhya) मनाएगी। योगी सरकार (yogi government )एक साथ इतने दिए जलकार एक नया रिकॉर्ड बनाने जा रही है। इसके लिए रामलला की जन्मभूमि (ram janm bhumi) दुल्हन की तरह सजकर तैयार हो चुकी है। पूरी अयोध्या रंग-बिरंगी लेजर लाइटों से जगमगाने लगी है। शहर में जगह-जगह पर भव्य द्वार बनाए गए हैं। हर एक इमारत पर लाइटें ही लाइटें चमचमा रही हैं। आइए जानते हैं आखिर कौन हैं वह लोग जो दिन रात कर रहे हैं मेहनत...

रामनगरी को जगमगाने के पीछे यह लोग
दरअसल, राम की पैड़ी में दीपोत्सव का यह पूरा कार्यक्रम वैसे तो योगी सराकर ही करा रही है। लेकिन शासन-प्रसान के अलावा भी ऐसे कई लोग हैं जो इस भव्य दीपोत्सव के पीछे हैं। जो दिए जलाने से लेकर जमाने और तेल डालने की तैयारियों में जुटे हुए हैं। राम जन्मभूमि में दीपकों की रोशनी बिखरने वाले लोगों में बच्चे-बुजुर्ग और युवा शामिल हैं। इस दीपोत्सव में इस बार 45 स्वयं सेवी सहायता के लोगो के अलावा 15 यूनिवर्सिटीस, 5 कॉलेज के छात्र-छत्राएं और फैकल्टी कई दिनों से वॉलिंटियर के रूप में दिन रात मेहनत कर रहे हैं। इन लोगों की संख्या 12 हजार है। यही 36 हजार लीटर सरसों का तेल इन 12 लाख दिए में डालेंगे। इसके लिए 36 टीमें बनाई गई हैं। जिनको राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के प्रोफेसर शैलेंद्र वर्मा लीड कर रहे हैं।

इस यादगार पल में शामिल होंगे यह लोग
बता दें कि 9 लाख दिए  सरयू नदी के तट पर राम की पैड़ी में जलाए जाएंगे। जबकि 3 लाख दिए अयोध्या शहर और यहां के मंदिरों में जलाए जाएंगे। इस कार्यक्रम में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश के राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, केन्द्रीय मंत्री जी किशन, यूपी सरकार के तमाम मंत्री और विधायक मौजूद रहेंगे।

ऐसे शुरू होगा यह भव्य समारोह
इस भव्य कार्यक्रमों का आयोजन सुबह 10 बजे भगवान राम की शोभा यात्रा और झांकियां निकालने के साथ शुरू हो जाएगा। यह शोभा यात्रा साकेत महाविद्यालय से शुरू होकर रामकथा पार्क पहुंचेगी। इसमें हेलीकॉप्टर से राम-सीता का आगमन होगा।

दोपहर 2:30 से शुरू होगा दीपोत्सव कार्यक्रम
दोपहर 2 बजे यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी अयोध्या पहुंचेंगे। 
दोपहर 2:30 बजे भगवान श्रीराम सीता का हेलीकॉप्टर से आगमन होगा और भरत मिलाप होगा।
दोपहर 3 बजे रामायण चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन। 
दोपहर 3:30 बजे श्रीराम का राज्याभिषेक।
दोपहर 3:45 बजे अयोध्या के विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास।
शाम 4 बजे यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी का भाषण।
शाम 5:20 बजे सरयू आरती का आयोजन।
शाम 6 बजे राम की पैड़ी पर दीपोत्सव की शुरूआत।
शाम 6:15 बजे राम की पैड़ी पर 9 लाख दीये जलाए जाएंगे, अयोध्या शहर में 3 लाख दीये जलाए जाएंगे। अयोध्या में कुल 12 लाख दीये जलेंगे।
शाम 7 बजे योगी आदित्यनाथ का भाषण।
शाम 7:40 बजे राम की पैड़ी पर आतिशबाजी और लेजर शो का आयोजन।
रात 8:30 बजे श्रीलंका के सांस्कृतिक दल द्वारा रामलीला का मंचन
रात 9:30 बजे कार्यक्रम का समापन।

यह भी पढ़िए-Diwali 2021: पटाखों पर कई राज्यों में फुल बैन, जानिए कहां कितनी छूट..कैसे कर सकेंगे दीवाली पर आतिशबाजी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios