Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी में बीमारियों को लेकर सीएम योगी हुए सख्त, एक जुलाई से चलेगा बड़ा अभियान

यूपी को बिमारी मुक्त बनाने के लिए सीएम योगी एक जुलाई से एक बड़ा अभियान चलाने जा रहे है। जिसकी जानकारी उन्होंने खुद दी है।

Yogi adityanath in the meeting of team 9 said communicable diseases from 1st july 2022 there will be a drive will start
Author
Lucknow, First Published Jun 23, 2022, 4:36 PM IST

लखनऊ: इंसेफेलाइटिस, डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और कालाजार जैसी संक्रामक बीमारियों के खिलाफ यूपी में जुलाई की एक तारीख से बड़ा अभियान चलेगा। जिसकी सूचना खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दी है।

टीम-9 की बैठक में हुए बड़े फैसले
सीएम योगी ने टीम-9 के साथ बैठक में यूपी के अंदर बड़ी बिमारियो को खत्म करने के लिए एक जुलाई से बड़ा अभियान चलाने जा रहे है। इसमें स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के साथ-साथ कई अन्‍य सम्‍बन्धित विभाग अपना योगदान देंगे। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार को टीम-9 के साथ बैठक के बाद इस बारे में विस्‍तृत रूप से कार्ययोजना सामने रखी। उन्‍होंने कहा कि सभी विभागों को मिलकर इस अभियान को सफल बनाना होगा।

जानिए क्या कुछ बोले सीएम योगी
सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि 'पहले प्रदेश के 38 जिलों तक अभियान सीमित था, लेकिन प्रदेश के अलग-अलग हिस्‍सों में अलग-अलग बीमारियों के प्रकोप को देखते हुए पूरे प्रदेश को इसमें शामिल कर लिया गया है। उन्‍होंने कहा कि इंसेफेलाइटिस के लिहाज से कुशीनगर से सहारनपुर तक, डेंगू के लिहाज से मथुरा-फिरोजाबाद-आगरा-कानपुर-लखनऊ, मलेरिया के लिहाज से बरेली और आसपास, कालाजार के लिहाज से वाराणसी और आसपास के जनपद और चिकन गुनिया के लिहाज से बुंदेलखंड का क्षेत्र संवेदनशील है। किसी न किसी रूप में पूरा प्रदेश कम या ज्‍यादा रूप में इन बीमारियों से प्रभावित है। बीमारी बढ़ती तब है जब हम अनदेखी और लापरवाही करते हैं। इसीलिए हमने तय किया है कि पूरे प्रदेश में अभियान चलना चाहिए।'
सीएम योगी ने आगे कहा कि 'एक जुलाई से हर जिला, तहसील, ब्लॉक मुख्यालय पर,हर नगर निकाय, हर सार्वजनिक स्‍थान जैसे चिकित्‍सालय आदि पर सूचना विभाग, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के साथ मिलकर बड़े-बड़े होर्डिंग लगाए जायेंगे। संचारी रोगों में कौन-कौन सी बीमारियां हैं। कौन-कौन सी सावधानियां बरती जानी हैं। इन सब की जानकारी इन होर्डिंग्स पर होगी।'
सीएम ने बच्चों का जिक्र करते हुए कहा कि बच्चों को शुद्ध पानी ही पिलाएं और जहां पर पानी पीने लायक नहीं है। तो बच्चों को गर्म पानी करके जब ठंड़ा हो जाये तब उसको छानकर पिलाएं।

प्रयागराज हिंसा के 12 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली, 31 उपद्रवियों को पकड़ने में नाकाम

'अग्निपथ' योजना: हिंसा में शामिल 475 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार, 'नहीं दिखा बंद का कोई असर'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios