Asianet News Hindi

38 साल बाद यह महिला मिली अपने पिता से, फेसबुक के जरिए चला पता

फेसबुक बिछुड़ों को मिलाने का सबसे बढ़िया प्लैटफॉर्म बन गया है। इसके जरिए लोग अपने ऐसे दोस्तों से मिल जाते हैं, जिनसे वर्षों से संपर्क टूटा रहा हो। अभी ब्रिटेन में एक महिला फेसबुक के जरिए ही 38 साल बाद अपने पिता से मिली। 

After 38 years, this woman met her father, came to know through Facebook MJA
Author
Britain, First Published Feb 18, 2020, 3:16 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क। फेसबुक बिछुड़ों को मिलाने का सबसे बढ़िया प्लैटफॉर्म बन गया है। इसके जरिए लोग अपने ऐसे दोस्तों से मिल जाते हैं, जिनसे वर्षों से संपर्क टूटा रहा हो। अभी ब्रिटेन में एक महिला फेसबुक के जरिए ही 38 साल बाद अपने पिता से मिली। ब्रिटेन के कॉर्नवॉल की रहने वाली महिला कैरेन हैरिस ने फेसबुक के Friend Suggestion फीचर के जरिए अपने पिता को ढूंढा।

पेरेंट्स ने अनाथालय को दे दिया था
कैरेन के पेरेंट्स ने उसके जन्म के कुछ समय के बाद ही उसे एक अनाथालय को दे दिया था। दरअसल, उसके माता-पिता की शादी नहीं हुई थी। बिना शादी किए लड़की के जन्म लेने पर लोक लाज के डर से माता-पिता ने उसे अनाथालय को गोद दे दिया। जब कैरेन बड़ी हुई तो अनाथालय से ही उसे अपने पिता के नाम का पता चला। कैरेन का जन्म 60 के दशक में हुआ था।

18 साल की उम्र से शुरू की खोज
जब कैरेन 18 साल की हुई, तभी से उसने अपने पिता को ढूंढना शुरू कर दिया। उसने ऑनलाइन पता लगाने की काफी कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। कैरेन को सिर्फ अपने पिता का नाम मालूम था। खोजबीन के दौरान ही उसे पता चला कि वह बिन ब्याही मां की बेटी थी। इसी से उसे अनाथालय में छोड़ दिया गया था। 

कैरेन ने तलाश जारी रखी
इस बीच, कैरेन की भी शदी हो गई। काफी लंबा अर्सा बीत गया। उसके बच्चे भी बड़े हो गए। इस दौरान कैरेन लगातार अपने पिता ट्रेवर सिंडेन की तलाश में लगी रही। लेकिन 38 साल तक पिता का कोई पता नहीं चल पाने से वह निराश हो गई थी। उसे लग रहा था कि अब शायद वह कभी अपने पिता से नहीं मिल पाएगी।

फेसबुक से चला पता
एक दिन कैरेन फेसबुक देख रही थी। उसने फ्रेंड सजेशन फीचर को स्क्रॉल करना शुरू किया। उसी में उसे ट्रेवर सिंडेन नाम दिखाई पड़ा। उस लगा कि शायद ये शख्स उसका पिता ही हो। केंट के रहने वाले पेशे से इलेक्ट्रिशियन इस 72 साल के व्यक्ति की तस्वीर उसके पिता से मिलती-जुलती लगी। उसने तत्काल उसकी टाइमलाइन पर जाकर एक मैसेज किया। 

पिता ने पहचान लिया बेटी को
ट्रेवर ने जब मैसेज पढ़ा तो उन्हें याद आ गया कि उनकी एक बेटी थी, जिसे उन्होंने अनाथालय में छोड़ दिया था। बाद में उन्होंने भी अपनी बेटी का पता लगाने की कोशिश की थी, पर उन्हें सफलता नहीं मिली। इसके बाद दोनों ने फेसबुक पर चैटिंग शुरू की। अब दोनों को इस बात का पूरा भरोसा हो गया कि वे पिता-पुत्री हैं। फिर उन्होंने मिलने का निर्णय लिया। दोनों उसी जगह पर मिले, जहां कभी ट्रेवर अपनी पत्नी के साथ घूमने आया करते थे। दोनों जब मिले तो खुशी से उछल पड़े। ट्रेवर को इस बात का यकीन हो गया कि कैरेन उनकी ही बेटी है। इस बीच, उसकी मां गुजर चुकी थी। मिलने के बाद ऐसा लग रहा था कि वे कभी बिछुड़े ही नहीं थे। अब दोनों काफी खुश हैं।   

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios