लंदन। यूनाइटेड किंगडम में सॉमरसेट शहर के पास बहने वाली नदी फ्रोम के पानी का रंग एक ही रात में बदल कर गहरा नीला और चमकदार हो गया। इसके बाद एन्वायरन्मेंट वॉचडॉग यानी पर्यावरण सुरक्षा को लेकर काम करने वाली एक संस्था ने इसकी वैज्ञानिक जांच शुरू की। पहले यह संदेह जताया गया था कि पानी के रंग में अचानक यह बदलाव प्रदूषण की वजह से आया है। नदी का पानी पॉल्यूशन का शिकार हो गया है।

पहली नजर में प्रदूषण नहीं 
बहरहाल, पहली नज़र में यह प्रदूषण का मामला नहीं लगता है, क्योंकि नदी में किसी तरह का कचरा या जंगली जानवरों की लाश नहीं मिली है। फिर भी एन्वायरन्मेंट एजेंसी ने जांच के लिए नदी से सैम्पल ले लिए हैं। 

क्या कहा एन्वायरन्मेंट एजेंसी ने
एजेंसी ने कहा कि नदी में पॉल्यूशन को लेकर जांच की जा रही है। अभी तक कोई ऐसी चीज नहीं मिली है, जिससे कहा जा सके कि नदी में प्रदूषण का असर है, लेकिन आगे जांच के लिए सैम्पल्स लिए गए हैं। एजेंसी के सूत्रों का कहना है कि वे इस सप्ताह के अंत तक नदी के पानी के रंग में होने वाले बदलाव पर नजर रखेंगे और इसे मॉनिटर करेंगे। 

क्या यह रहस्य है
वहीं, इसे प्रकृति का एक रहस्य भी माना जा रहा है। नदी में अभी तक कुछ भी ऐसा नहीं मिला है, जिससे पॉल्यूशन हो सके। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि प्रदूषण होने से नदी का पानी गहरा नीला और चमकदार कैसे हो सकता है। बहरहाल, जब तक एजेंसी की फाइनल जांच रिपोर्ट नहीं आ जाती, कुछ भी नहीं कहा जा सकता।