Asianet News Hindi

इस रहस्यमय देश में कैदियों को खुद ही खोदनी पड़ती है अपनी कब्र, मिलती है रूह कंपा देने वाली सजा

बहुत से देश ऐसे हैं, जहां मानवाधिकार के नाम पर बहुत कड़ी सजा नहीं दी जाती। दुनिया के कई देशों में फांसी की सजा बंद कर दी गई है, लेकिन नॉर्थ कोरिया में कैदियों को रूह कंपा देने वाली सजा तो दी ही जाती है। अपनी कब्र तक उन्हें खुद ही खोदनी पड़ती है। 

In this mysterious country, the prisoners themselves have to dig their own grave MJA
Author
North Korea, First Published Feb 17, 2020, 2:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क। बहुत से देश ऐसे हैं, जहां मानवाधिकार के नाम पर बहुत कड़ी सजा नहीं दी जाती। दुनिया के कई देशों में फांसी की सजा बंद कर दी गई है, लेकिन नॉर्थ कोरिया में कैदियों को रूह कंपा देने वाली सजा तो दी ही जाती है, अपनी कब्र तक उन्हें खुद ही खोदनी पड़ती है। यह देश है नॉर्थ कोरिया, जहां के कानून बेहद कड़े और अजीबोगरीब किस्म के हैं। इसे रहस्यमय देश इसलिए कहा जाता है कि इसके बारे में दुनिया के दूसरे देशों के लोगों को ज्यादा जानकारी नहीं है। यहां के तानाशाह किम जोंग उन को सनकी और बेहद खतरनाक माना जाता है। उसने कई घातक एटॉमिक और केमिकल हथियार बना रखे हैं। 

कैदियों को दी जाती है कठोर सजा
उत्तर कोरिया में कैदियों को कठोर सजा दी जाती है। वहां मानवाधिकार के बारे में किसी को कुछ भी नहीं पता। स्थानीय कैदियों के अलावा विदेशी कैदियों को भी बड़ी यातनाएं दी जाती हैं। उनकी पिटाई करने से लेकर जबरन उनसे मजदूरी भी करवाई जाती है। कैदियों को बहुत ही छोटे सेलों में रखा जाता है, जहां वे पैर फैला कर सो नहीं सकते। 

सबसे भयानक हैं कोरिया की जेलें
एमनेस्टी इंटरनेशनल के अनुसार, पूरी दुनिया में सबसे भयानक उत्तर कोरिया की जेलें ही हैं। इन जेलों में अपराधियों को भेड़-बकरियों की तरह ठूंस कर रका जाता है और खाने के लिए चूहे व मेंढक दिए जाते हैं। बीमार पड़ जाने पर किसी कैदी का इलाज नहीं होता, भले ही वह मर जाए। इन जेलों में बड़ी संख्या में निरपराध लोग भी भरे पड़े हैं।

कैदी खुद खोदते हैं अपनी कब्र
यहां की जेलों में कुछ समय कैदी के रूप में बिता चुके अमेरिकी नागरिक केनेथ बे का कहना है कि उत्तर कोरिया में मौत की सजा पाए कैदियों को खुद अपनी कब्र खोदनी पड़ती है। कैदियों के साथ हर तरह का अत्याचार होता है। महिला कैदियों के साथ दुष्कर्म आम बात है। केनेथ का कहना है कि उत्तर कोरिया के लोगों को बाहर की दुनिया के बारे में ज्यादा पता नहीं। केनेथ का कहना था कि वहां यह प्रचार किया गया है कि अमेरिका के लोग बहुत गरीब होते हैं। इस बात को ज्यादातर लोग सही मानते हैं।   

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios