Asianet News Hindi

प्रेमिका को लगी भूख तो कर्फ्यू में खाना लेने निकल पड़ा बाहर, पुलिस के डंडे ऐसे पड़े कि पहुंच गया जेल

अभी कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में फैला हुआ है। इसे लेकर लगभग सभी देशों में लॉकडाउन या कर्फ्यू घोषित किया जा चुका है, ताकि लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल सकें। मलेशिया में भी पिछले 18 दिनों से लोगों के बाहर निकलने पर पाबंदी लगी हुई है।

Man arrested for peeping out in lockdown to get food for Girfriend MJA
Author
Malaysia, First Published Apr 4, 2020, 4:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क। अभी कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में फैला हुआ है। इसे लेकर लगभग सभी देशों में लॉकडाउन या कर्फ्यू घोषित किया जा चुका है, ताकि लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल सकें। मलेशिया में भी पिछले 18 दिनों से लोगों के बाहर निकलने पर पाबंदी लगी हुई है। इसे वहां मूवमेंट कंट्रोल ऑर्डर नाम दिया गया है। इस आदेश के जारी होने के बाद कोई भी अपने घर से बाहर नहीं निकल सकता है। ऐसा इसलिए किया गया, ताकि लोगों का कोरोना के संक्रमण से बचाव हो सके। यह अलग बात है कि इससे लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। लोग अपने करीबियों से दूर हो गए हैं।
 
मलेशिया में कोरोना के कितने मामले
मलेशिया में कोरोना संक्रमण के अब तक 2,626 मामले सामने आ चुके हैं। इससे वहां 37 लोगों की मौत भी हो चुकी है। मलेशिया में कोरोना के मामले में तब तेजी आई, जब वहां की राजधानी कुआलालंपुर के पास मुस्लिम धर्मावलंबियों का एक बड़ा धार्मिक आयोजन हुआ, जिसमें करीब 15 हजार लोगों ने हिस्सा लिया था। इसमें कई देशों के लोग शामिल हुए थे। इसके बाद मलेशिया की सरकार ने सख्ती करते हुए लोगों के मूवमेंट पर रोक लगाई। 

युवक निकल पड़ा प्रेमिका के लिए खाना लेने
मूवमेंट कंट्रोल ऑर्डल लागू होने के बावजूद सरवाक का रहने वाला 31 साल का एक युवक अपनी प्रेमिका के लिए फूड पैक करा कर लाने के लिए बाहर निकल गया। बेलसाऊ के नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट के पुलिस अधिकारियों ने उसे जब सड़क पर देखा तो चेतावनी दी और घर जाने के लिए कहा। लेकिन उस युवक ने उनकी बात नहीं मानी। 

जानबूझ कर नियम का किया उल्लंघन
युवक को अच्छी तरह पता था कि शहर में बाहर निकलने पर रोक लगी हुई है, लेकिन जब उसकी प्रेमिका ने कहा कि वह भूखी है, तो वह उसके लिए डिनर पैक करा कर लाने के लिए निकल पड़ा। उसने सोचा कि  शायद किस्मत उसका साथ दे और पुलिस अधिकारियों की नजर उस पर नहीं पड़े। लेकिन पुलिस अधिकारियों ने उसे देख लिया। डिप्टी अटॉर्नी जनरल मोहम्मद फिलान ने कहा कि हर आदमी मूवमेंट कंट्रोल ऑर्डर का पालन कर रहा है। अगर किसी की फैमिली भोजन के लिए परेशान है, तो उसे भी इस आदेश का पालन करना होगा। 

होगी तीन महीने की जेल
पुलिस अधिकारियों ने कहा कि वह युवक डिनर का इंतजाम घर पर भी कर सकता था, लेकिन उसने सरकार के आदेश की कोई परवाह नहीं की। अगर कोई अपनी प्रेमिका के शौक को पूरा करने के लिए लोगों की सुरक्षा की अनदेखी करता है, तो उसे दंड भुगतना होगा। जो लोग मूवमेंट कंट्रोल ऑर्डर को नहीं मानेंगे, उन्हें करीब 12,275 रुपए का जुर्माना या 3 महीने जेल की सजा भुगतनी होगी। इस नियम का सख्ती से पालन किया जा रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios