मलेशिया: कहा जाता है कि महिला ही महिला का दर्द समझ सकती है। कई बार लोग मुश्किल में फंसे लोगों को देखते तो हैं, लेकिन उसकी मदद के लिए सामने नहीं आते। आज के समय में ऐसा होना आम बात हो गई है। लोग हादसे के शिकार लोगों को देखते तो हैं, लेकिन 
मदद नहीं करते। लेकिन दुनिया में कुछ ऐसे भी लोग हैं जो किसी को तकलीफ में देखकर उसकी मदद के लिए तुरंत सामने आ जाते हैं। ऐसा ही कुछ देखने को मिला मलेशिया के टर्मिनल बरसता सेलाटन में। 

एयरपोर्ट पर चीख रही महिला 
जानकारी के मुताबिक, मलेशियन एयरपोर्ट पर यात्रा कर रही एक महिला यात्री को अचानक लेबर पेन होने लगा। वो दर्द से चीख रही थी। आसपास के यात्रियों ने उसे देखा लेकिन कोई भी उसकी मदद के लिए सामने नहीं आया। इसके बाद महिला यात्री ने वहां ड्यूटी पर तैनात महिला पुलिसकर्मी कोमाथि नारायण से मदद मांगी।  

पुलिसकर्मी ने की मदद 
कोमाथि उस समय एयरपोर्ट ड्यूटी पर थी। लेकिन महिला यात्री के चीखने की आवाज सुन उसने तुरंत उसकी मदद का फैसला किया। कोमाथि उसे लेकर हॉस्पिटल गई। लेकिन महिला हॉस्पिटल पहुंचने तक का इन्तजार नहीं कर पाई और उसने गाड़ी में ही बच्चे को जन्म दे दिया। इस पूरे समय कोमाथि ने महिला का हौसला बढ़ाया और उसकी मदद की।  इसके बाद कोमाथि ने बच्चे और मां को हॉस्पिटल में एडमिट करवाया।  

महिला ने फेसबुक पर कहा थैंक्स 
महिला ने हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर की। महिला ने अपने पोस्ट में कोमाथि को थैंक्स कहा। उसने लिखा कि आज कोमाथि के कारण वो और उसका बच्चा सेफ हैं। साथ ही उसने लोगों से जरूरतमंदों  की मदद करने की अपील की। ताकि किसी की जान बचाई जा सके।  

ये भी पढ़ें.... 
कमरे में अकेली सो रही थी बच्ची, रात में ली करवट और सुबह मिली लाश

AC चलाकर खाना बनाने लगा शख्स, फिर...

सरकारी अस्पताल में तड़पती रही मरीज, 4 घंटे करती रही खून की उल्टियां