Asianet News HindiAsianet News Hindi

चलते-चलते ही सो जाते हैं यहां के लोग

दुनिया में कुछ ऐसी रहस्मयय घटनाएं होती हैं, जिनकी वजह जान पाना मुश्किल होता है। कजाकिस्तान के एक गांव के लोग चलते-चलते ही रास्ते में सो जाते हैं।

People fall asleep while walking, no one could know the reason
Author
Kazakhstan, First Published Aug 20, 2019, 11:24 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। कुछ लोगों को नींद में चलने की बीमारी होती है, पर किसी गांव की आधी से ज्यादा आबादी रास्ते में चलते-चलते सो जाए तो यह वाकई कितनी हैरत की बात है। इस पर बहुत से लोग भरोसा नहीं भी कर सकते हैं, पर यह सच है। कजाकिस्तान के एक गांव के काफी लोग चलते-चलते रास्ते में ही सो जाते हैं। एक बार सो जाने के बाद वे कितनी देर बाद उठेंगे, यह कह पाना भी मुश्किल है। कई लोग बहुत देर तक सोते रहते हैं और जगाने की कोशिश करने पर भी जल्दी नहीं जागते। 

कजाकिस्तान के कलाची गांव के हैं ये लोग
रास्ते में चलते-चलते सो जाने वाले ये लोग कजाकिस्तान के कलाची गांव के हैं। इस गांव की आबादी करीब 810 है। इसमें से लगभद 200 लोग ऐसे हैं, जो चलते-चलते कहीं भी सो जाते हैं। यह समस्या कोई आज की नहीं, बल्कि दशकों पुरानी है। बहुत से लोगों ने इसकी वजह जानने की कोशिश की, लेकिन कुछ भी पता नहीं चल सका। कुच लोग तो सो जाने के बाद जल्दी उठते ही नहीं। एक बार तो एक  शख्स इसी तरह सोया और फिर उठा ही नहीं। नींद में ही उसकी मौत हो गई।   

वैज्ञानिक कर रहे रिसर्च
इस रहस्य की जानकारी पाने के लिए वैज्ञानिक लंबे समय से रिसर्च में लगे हुए हैं। उनका मानना है कि यहां कार्बन मोनो ऑक्साइड और हाइड्रो कर्न की ज्यादा मात्रा है। इससे लोगों को जरूरत के मुताबिक ऑक्सीजन नहीं मिल पाती है। लेकिन इसमें कोई खास लॉजिक नहीं है। अगर ये वजह होती तो इसका असर सब पर होता, न कि केवल कुछ लोगों पर। 

परेशानी में हैं लोग
इस समस्या के चलते इस गांव के लोग काफी परेशानी में हैं। कब कौन रास्ते में चलते हुए सो जाए और कब जागे, इसका कुछ पता नहीं। इस दौरान उसके साथ कोई हादसा भी हो सकता है। कब इस रहस्य का पता चल सकेगा, इसके बारे में वैज्ञानिक और मेडिकल रिसर्चर भी कुछ कह नहीं पा रहे। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios