कुआलालंपुर: गलियों में आवारा घूमने वाले जानवरों के साथ अक्सर लोग बहुत ही क्रूरतापूर्ण व्यवहार करते हैं। आम तौर पर लोग मजे के लिए ऐसा करते हैं। जबकि ऐसा करना कानूनन अपराध है। मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर में कुछ लोगों ने एक डॉगी के साथ ऐसी ही क्रूर व्यवहार किया। उन्होंने उसके पेट पर एक नुकीला तार बांध दिया। उन लोगों ने उस बेजुबान जानवर के पेट से लेकर कमर तक तार को इस तरह से बांधा कि उसके लिए बैठ पाना तक मुश्किल हो रहा था। डॉगी दर्द से तड़प रही थी।

My Pets Haven ने  बचाई जान
यह संयोग की बात थी कि  जानवरों की भलाई के लिए काम करने वाली संस्था  My Pets Haven के वॉलन्टियर्स  की नजर उस पर पड़ गई और उन्होंने उसकी जान बचाई। बदमाशों ने डॉगी के पेट और कमर पर नुकीला तार इस तरह से बांधा था कि उसका मांस कटने लगा था और उसे ब्लीडिंग हो रही थी। 

पहले डॉगी को ट्रैंक्युलाइजर दिया गया
संस्था के वॉलन्टियर्स ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू करने के पहले डॉगी को इंजेक्शन के जरिए ट्रैंकुलाइजर दिया। ऐसा नहीं करने पर उनके लिए उसका रेस्क्यू कर पाना संभव नहीं हो पाता, क्योंकि दर्द से तड़प रही डॉगी इधर-उधर भाग सकती थी।

ट्रैंक्युलाइज करने के बाद भी डॉगी ने किया परेशान
रेस्क्यू के दैरान डॉगी ने वॉलन्टियर्स को काफी परेशान किया और उन्हें काटने की भी कोशिश की, लेकिन  My Pets Haven की टीम इस काम में पूरी तरह माहिर थी। टीम मेंबर्स ने पहले नुकीले तार को काट कर उसे निकाला और फिर डॉगी को इलाज के लिए गए। 

घाव भरने में लगेगा समय
संस्था के लोगों का कहना है कि डॉगी को नुकीले तारों की वजह से गहरे घाव हो गए हैं, जिन्हें भरने में कुछ समय लगेगा। उसे इलाज के लिए एक पशु चिकित्सा सेंटर पर रखा गया है, जहां उसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है।

रेस्क्यू प्रॉसेस का बनाया वीडियो
संस्था के लोगों ने डॉगी के रेस्क्यू के पूरे प्रॉसेस का वीडियो भी बनाया। संस्था के वॉलन्टियर्स ने लोगों से अपील की है कि वे बेजुबान जानवरों के साथ ऐसी क्रूरता से भरा व्यवहार नहीं करें। ये जानवर किसी का नुकसान नहीं करते। सरकारी आधिकारियों ने भी पशुओं के साथ गलत व्यवहार करने वाले लोगों से सख्ती से निपटने की बात कही है।