Asianet News Hindi

मेले में झूला झूलने गई थी बच्ची, फिर खुला दरवाजा और हुआ दर्दनाक हादसा

कई बार इंसान मौज-मजे के लिए कहीं जाता है और वहां असवाधानीवश ऐसा हादसा हो जाता है, जिसमें जान भी जा सकती है। मलेशिया की एक 4 साल की बच्ची के साथ एक फन पार्क में ऐसा ही हुआ।

The girl went to the swing in the fair, then the open door and painful accident happened
Author
Hutan Melintang, First Published Sep 26, 2019, 9:37 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हुटान मेलिनटैंग, मलेशिया। यहां एक फनफेयर में मौज-मस्ती के लिए जाना एक 4 साल की छोटी बच्ची और उसके परिवार के एक भयानक सपने जैसा हो गया। बच्ची अपने पेरेंट्स के साथ हूटान मेलिनटैंग सिटी के एक अम्यूजमेंट पार्क में घूमने गई थी। जोऊ लेइंग नाम की यह छोटी बच्ची वहां फेरिस व्हील झूले पर बैठी। उसकी मां उसके साथ नहीं गई। झूले के कम्पार्टमेंट में वह अकेली बैठी। झूला ऑपरेट करने वालों की लापरवाही से उस कम्पार्टमेंट का दरवाजा खुला रह गया, जिसमें बच्ची बैठी थी। जब झूला स्टार्ट हुआ और उसने बहुत स्पीड पकड़ ली तो बच्ची करीब दो मंजिल की ऊंचाई से सीधा जमीन पर आ गिरी। यह बहुत ही भयानक एक्सीडेंट था और बच्ची की जान भी जा सकती थी। तुरंत झूले को रोकने की कोशिश की गई। 

बच्ची जब गिर रही थी, उसकी मां हताश देख रही थी
झूले के कम्पार्टमेंट का दरवाजा खुला होने की वजह से जब बच्ची गिरने लगी तो नीचे जमीन पर खड़ी उसकी मां क्वीमी हताशा हो गई, लेकिन यह देखने के सिवा कुछ नहीं कर सकती थी। उसे लगा कि अब उसकी बच्ची जिंदा नहीं बच पाएगी। इसी बीच झूले को ऑपरेटरों ने बीच में ही रोका।

बच्ची के चाचा भी वहीं थे मौजूद
बच्ची के पेरेंट्स के अलावा उसके 26 वर्षीय चाचा भी वहीं मौजूद थे, जब यब भयानक घटना हुई। उन्होंने कहा कि झूले को बीच में ही रोका गया, लेकिन उनकी भतीजी जमीन पर आ गिरी। उन्होंने कहा कि उस वक्त वहां पर और भी कई विजिटर्स मौजूद थे और इस घटना को देख कर वे भी शॉक्ड रह गए।

बच्ची को तत्काल ले जाया गया हॉस्पिटल
बच्ची को बिना देर किए जल्दी से हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उसका ट्रीटमेंट शूरू हुआ। डॉक्टरों ने बताया कि बच्ची के पैर टूट गए हैं और उसकी कलाई और चेहरे पर भी चोट पहुंची है। 

बच्ची की फैमिली ने की पुलिस से शिकायत
बच्ची की मां क्वीमी ने कहा कि उसने इस घटना के बारे में पुलिस में शिकायत की है जो अम्यूजमेंट पार्क के मैनेजमेंट पर एक्शन लेगी, क्योंकि उन्होंने वहां झूले एवं दूसरी चीजों की क्वालिटी को मेंटेन कर के नहीं रखा गया है और इस वजह से कभी कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है। उसने कहा कि यह ऊपरवाले का लाख-लाख शुक्र है कि उसकी बच्ची जिंदा बच गई।

पार्क के मैनेजमेंट ने क्या कहा
अम्यूजमेंट पार्क के मैनेजमेंट ने एक स्टेटमेंट जारी कर कहा कि फेरीज को ऑपरेट करने वाले इम्प्लॉइज ने तत्काल ब्रेक लगाने की कोशिश की, लेकिन इसमें वे सफल नहीं हो सके, क्योंकि यह काफी पुराना हो चुका है। मैनेजर ने कहा कि इसे वे तत्काल बदलेंगे और उन्हें इस घटना से गहरा दुख हुआ है।   

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios