Asianet News Hindi

32 साल का युवक जब बन गया 81 साल का बूढ़ा, जानें फिर क्या हुआ

32 साल का एक युवक 81 साल के बूढ़े का रूप बना कर दिल्ली इंटरनेशल एयरपोर्ट पर व्हीलचेयर पर घूम रहा था। उसका पासपोर्ट भी 81 साल के बूढ़े का था।

When a 32 year old man became 81 years old, know what happened then
Author
New Delhi, First Published Sep 15, 2019, 9:46 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली।  कभी-कभी लोग ऐसी जालसाजी करते हैं कि कोई भी हैरान रह जाए। कई बार लोग इसमें सफल भी हो जाते हैं, पर ज्यादातर पकड़े जाते हैं। ऐसा ही पिछले रविवार को दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर देखने को मिला। वहां व्हीलचेयर पर बैठा एक बहुत ही बूढ़ा शख्स न्यूयॉर्क जाने वाली फ्लाइट पकड़ने वाला था, लेकिन इसी बीच एयरपोर्ट के अधिकारियों को उस पर शक हो गया। 

32 साल का था वह शख्स
करीब 80 साल के बूढ़े की तरह दिखने वाला वह शख्स महज 32 साल का था। जांच में यह बात सामने आई। उसने 82 साल के बूढ़े जैसा मेकओवर कर लिया था। उसने दाढ़ी रंग ली थी और सफेद पगड़ी बांध रखी थी। उसके पास पेंशनर पासपोर्ट था, जिस पर वैसी ही तस्वीर लगी थी जैसा वह दिख रहा था। 

एयरपोर्ट अथॉरिटीज को हुआ शक
व्हीलचेयर पर बैठा वह शख्स जब सिक्युरिटी चेकिंग से गुजरने लगा तो अथॉरिटीज को उसके हाव-भाव देख कर कुछ शक हुआ। इसके बाद सिक्युरिटी ऑफिशियल्स ने उससे पूछताछ शुरू की। उसने सुरक्षा अधिकारियों के सवालों का गोलमोल जवाब देना शुरू किया। 

क्या कहा सुरक्षा अधिकारी ने
इंदिरा गांधी इंटरनेशल एयरपोर्ट पर तैनात सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्युरिटी फोर्स के सीनियर ऑफिसर श्रीकांत किशोर ने बताया कि वह किसी भी सवाल का जवाब देने में आनाकानी कर रहा था और ऐसा दिखा रहा था कि वह बहुत ही कमजोर है। जब उससे व्हीलचेयर पर से उठने को कहा गया तो उसने कहा कि वह खड़ा नहीं हो सकता। जब उसे सहारा देकर खड़ा करने की कोशिश की गई तो वह बहुत कठिनाई से खड़ा हो पा रहा था। 

जांच में निकला 32 साल का जवान
अधिकारियों ने देखा कि उसकी दाढ़ी रंगी हुई है। जब अधिकारियों को उसकी असलियत पता चल गई तो वह उनसे आंखें नहीं मिला पा रहा था। जब उसके पासपोर्ट की जांच की गई को वह नकली निकला। उसमें उसका नाम अमरीक सिंह लिखा था। पासपोर्ट में उसका जन्मस्थान दिल्ली दर्ज थाा। पासपोर्ट में जन्म का साल 1938 और महीना फरवरी दर्ज था। इस तरह से उसकी उम्र 81 साल हो रही थी। लेकिन सच्चाई यह थी कि वह महज 32 साल का था। 

कड़ी पूछताछ के बाद उगली सच्चाई
इसके बाद सिक्युरिटी ऑफिशियल्स ने उसे इमिग्रेशन अधिकारियों को सौंप दिया। जब अधिकारियों ने उससे कड़ी पूछताछ की तो उसने सच्चाई उगलते हुए बताया कि वह सिर्फ 32 साल का है। उसने अपना नाम जयेश पटेल बताया। उसने कहा कि वह गुजरात का रहने वाला है और गलत पासपोर्ट बनावा कर वह न्यूयॉर्क जाना चाहता था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios