Asianet News HindiAsianet News Hindi

अफगानिस्तान: तालिबान का को-फाउंडर मुल्ला बरादर घायल, सत्ता को लेकर तालिबान और हक्कानी में खून-खराबा

पंजशीर के फोर्स (प्रतिरोध बलों) का दावा है कि शनिवार की लड़ाई में करीब 700 तालिबानी मारे गए तथा और 600 अन्य को कैद कर लिया गया। 

Afghanistan Taliban co founder Mullah Baradar injured in firing by hakkani network for hold on government
Author
Kabul, First Published Sep 5, 2021, 11:27 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

काबुल। अफगानिस्तान में स्थितियां बेहद खराब होती जा रही हैं। यहां सत्ता को लेकर अब तालिबान और हक्कानी नेटवर्क के बीच खूनी टकराव शुरू हो चुका है। अफगानी अखबार 'पंजशीर ऑब्जर्वर' की रिपोर्ट के अनुसार हक्कानी नेटवर्क की फायरिंग में तालिबान का को-फाउंडर मुल्ला बरादर घायल हो गया है। बरादर का इस समय पाकिस्तान में इलाज चल रहा है। फिलहाल, इस प्रारंभिक सूचना की पुष्टि कोई नहीं कर रहा है। 

महंगा पड़ रहा तालिबान का पंजशीर के शेरों से उलझना

कई दिनों से जारी खूनी खेल के बीच शनिवार को पंजशीर के लड़ाकों से पंगा लेना तालिबान को महंगा पड़ गया और उसके करीब 700 से अधिक लड़ाके ढेर हो गए। पंजशीर के फोर्स (प्रतिरोध बलों) का दावा है कि शनिवार की लड़ाई में करीब 700 तालिबानी मारे गए तथा और 600 अन्य को कैद कर लिया गया। 
पंजशीर की राजधानी बाजारक और प्रांतीय गवर्नर के परिसर की ओर जाने वाली सड़कों पर लैंडमाइन होने की वजह से वे आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं।

पंजशीर प्रांत में तालिबान विरोधी बलों का नेतृत्व कर रहे अहमद मसूद ने एक ऑडियो संदेश में कहा कि 700 से अधिक तालिबान मारे गए और 600 अन्य पकड़े गए और कैद किए गए जबकि बाकी भागने की कोशिश कर रहे हैं। मसूद ने संदेश में कहा, ‘हम अग्रिम पंक्ति में हैं, सब कुछ योजनाबद्ध था। हम पूरे प्रांत को नियंत्रित कर रहे हैं।’
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios