Asianet News Hindi

उईगर मुसलमानों पर चीनी सरकार के अत्याचार पर सख्त हुआ अमेरिका, बोला-एकसाथ आकर विरोध करना होगा

अमेरिका ने उईगर मुसलमानों को लेकर चीन की आलोचना की है। उईगर मुसलमानों पर चीन में हो रहे अत्याचार पर अमेरिका के सेक्रेटरी आफ स्टेट एंटोनी ब्लिंकेन ने चीन की सरकार द्वारा झिंजियांग क्षेत्र में किए जा रहे अत्याचार व दमन की कार्रवाई की निंदा की है। ब्लिंकेन ने अमेरिका को इस मुद्दे पर दुनिया के बाकी देशों को भी इस मुद्दे पर एक साथ लाकर चीनी सरकार की निंदा करने की जरुरत बताई है। 

America criticises Chinese government's atrocities on Uyghur Muslims DHA
Author
Washington, First Published Apr 12, 2021, 3:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन। अमेरिका ने उईगर मुसलमानों को लेकर चीन की आलोचना की है। उईगर मुसलमानों पर चीन में हो रहे अत्याचार पर अमेरिका के सेक्रेटरी आफ स्टेट एंटोनी ब्लिंकेन ने चीन की सरकार द्वारा झिंजियांग क्षेत्र में किए जा रहे अत्याचार व दमन की कार्रवाई की निंदा की है। ब्लिंकेन ने अमेरिका को इस मुद्दे पर दुनिया के बाकी देशों को भी इस मुद्दे पर एक साथ लाकर चीनी सरकार की निंदा करने की जरुरत बताई है। 
एक इंटरव्यू में ब्लिंकेन ने कहा कि इस मुद्दे पर दुनिया को एक साथ बोलने की जरुरत है। जो कुछ चीन सरकार द्वारा उईगर मुसलमानों के दमन खातिर किया जा रहा है, उसकी एक स्वर में निंदा करने की आवश्यकता है। इस पर पूरी दुनिया को एकजुटता दिखाकर ठोस कार्रवाई करने ही पहल करनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि पूरी दुनिया के देश यह भी सुनिश्चित करें कि हम चीन को ऐसा कोई उपकरण या हथियार तो नहीं उपलब्ध करा रहे जिनका इस्तेमाल चीन उईगरों के खिलाफ दमनात्मक कार्रवाई करने के लिए कर रहा हो। 

मानवाधिकारों के उल्लंघन व नरसंहार के खिलाफ अमेरिका साथ

शीर्ष स्तर के एक अमेरिकी राजनयिक ने बयान जारी करते हुए डिपार्टमेंट आफ स्टेट के एक दस्तावेज की प्रतिलिपि देते हुए कहा कि हमें चीन से निपटने के लिए आगे आना होगा। खासकर उन इलाकों में जहां उइगरों के हितों पर टकराव की स्थिति बन रही है। हमको मानव अधिकारों के उल्लंघन और नरसंहार के खिलाफ पूरी तरह से खड़े होने की आवश्यकता है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios