Asianet News Hindi

चीन ने किया अनोखा हाइपरसोनिक जेट इंजन बनाने का दावा, पूरी दुनिया में कहीं भी 2 घंटे में पहुंचेगा

चीन ने एक ऐसा हाइपरसोनिक जेट इंजन तैयार करने का दावा किया है जो ध्वनि की रफ्तार से 16 गुना तेज उड़ सकता है। इस दावे के मुताबिक, अगर जेट इंजन को किसी विमान में फिट किया जाएगा तो यह दुनिया में कहीं भी दो घंटे में पहुंचने में सक्षम हो सकता है।

China claims to build unique hypersonic jet engine will reach anywhere in the world in 2 hours kpl
Author
Beijing, First Published Dec 2, 2020, 3:27 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बीजिंग. चीन ने एक ऐसा हाइपरसोनिक जेट इंजन तैयार करने का दावा किया है जो ध्वनि की रफ्तार से 16 गुना तेज उड़ सकता है। इस दावे के मुताबिक, अगर जेट इंजन को किसी विमान में फिट किया जाएगा तो यह दुनिया में कहीं भी दो घंटे में पहुंचने में सक्षम हो सकता है। बता दें कि ध्वनि की रफ्तार 1234.8 km/h घंटे होती है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने नए जेट इंजन को Sodramjet नाम दिया है। बीजिंग की एक सुरंग में इसका परीक्षण किया गया। परीक्षण के दौरान जेट इंजन सुरंग में हासिल की जा सकने वाली अधिकतम रफ्तार तक पहुंचने में कामयाब रहा।

रिसर्चर्स का यह भी कहना है कि परंपरागत रनवे से उड़ान भरने वाले विमानों में भी इस इंजन को लगाया जा सकता है। उड़ान भरने के बाद यह विमान एक खास ऑरबिट में पहुंचेगा और वापस लैंडिंग के वक्त धरती के वायुमंडल में आ जाएगा। अगर ये इंजन आगे के परीक्षणों में भी सफल रहता है और मिलिट्री भी इसका इस्तेमाल करती है तो इससे बेहद खतरनाक हथियार तैयार किए जा सकते हैं। वहीं, साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट को एक एक्सपर्ट ने बताया कि नए इंजन से जुड़ी जो स्टडी प्रकाशित की गई है उसमें इस बात का खास ख्याल रखा गया है कि तकनीक के पीछे का सीक्रेट सार्वजनिक ना हो।

वैज्ञानिक कर चुके हैं रिव्यू 
रिसर्चर्स का यह भी कहना है कि नई टेक्नोलॉजी का रिव्यू भी वैज्ञानिकों ने कर दिया है। इस इंजन में इंधन के लिए हाइड्रोजन का उपयोग किया गया है। चाइनीज अकेडमी ऑफ साइसेंज के प्रोफेसर जिआंग जोंगलिन ने इंजन तैयार करने वाले एक्सपर्ट्स की टीम का नेतृत्व किया।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios