नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लद्दाख दौरे को लेकर बौखलाए चीन ने अपनी पहली प्रतिक्रिया दी है। चीन ने कहा कि इस मौके पर किसी भी पक्ष को ऐसा काम नहीं करना चाहिए, जिससे माहौल खराब हो या तनाव बढ़े।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजिन ने कहा,  भारत और चीन सीमा पर तनाव कम करने के लिए सैन्य और कूटनीतिक माध्यमों से संपर्क में हैं। दोनों देशों के बीच विवाद को हल करने के लिए बातचीत चल रही है। ऐसे वक्त में किसी भी पक्ष को ऐसा कोई काम नहीं करना चाहिए जिससे तनाव बढ़े। 

 


सीडीएस और सेना प्रमुख के साथ पहुंचे पीएम मोदी
चीन से चल रहे सीमा विवाद के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को अचानक लद्दाख के दौरे पर पहुंचे। यहां पीएम मोदी ने लेह में सिन्धु नदी के तट पर 11,000 फीट की ऊंचाई पर नीमू पर आर्मी, एयरफोर्स और आईटीबीपी के जवानों से मुलाकात कर उनका हौसला बढ़ाया। पीएम ने मैप पर पूरी स्थिति की जानकारी ली। पीएम मोदी के साथ इस दौरे पर सीडीएस बिपिन रावत और आर्मी चीफ एमएम नरवणे भी पहुंचे।