Asianet News Hindi

20 महीने बाद PAK का कबूलनामा: मंत्री फवाद चौधरी ने कहा- पुलवामा हमला इमरान सरकार की बड़ी कामयाबी

पाकिस्तान ने नेशनल असेंबली में मान लिया कि इमरान खान के नेतृत्व में पुलवामा अटैक हुआ था। पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि पुलवामा हमला इमरान खान सरकार की बड़ी कामयाबी है। उन्होंने कहा, पाकिस्तान ने पुलवामा की घटना के बाद भारत को करारा जवाब दिया और पाकिस्तान वायु सेना (पीएएफ) ने अपने क्षेत्र में प्रवेश करने के बाद दुश्मन को मार गिराया। उन्होंने विपक्ष को अपने व्यवहार पर पुनर्विचार करने की सलाह दी और कहा कि संघीय सरकार की आलोचना का हमेशा स्वागत किया जाता है लेकिन राज्य की आलोचना नहीं की जानी चाहिए।

Fawad Chaudhry admits Pulwama was a great achievement of Imran Khan led Pak govt kpn
Author
Islamabad, First Published Oct 29, 2020, 5:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इस्लामाबाद. पाकिस्तान ने नेशनल असेंबली में मान लिया कि इमरान खान के नेतृत्व में पुलवामा अटैक हुआ था। पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि पुलवामा हमला इमरान खान सरकार की बड़ी कामयाबी है। उन्होंने कहा, पाकिस्तान ने पुलवामा की घटना के बाद भारत को करारा जवाब दिया और पाकिस्तान वायु सेना (पीएएफ) ने अपने क्षेत्र में प्रवेश करने के बाद दुश्मन को मार गिराया। उन्होंने विपक्ष को अपने व्यवहार पर पुनर्विचार करने की सलाह दी और कहा कि संघीय सरकार की आलोचना का हमेशा स्वागत किया जाता है लेकिन राज्य की आलोचना नहीं की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा, "आप असेंबली के फ्लोर के ऊपर बातें कर रहे हैं। और झूठ इतने कॉन्फिडेंट से बोल रहे हैं कि झूठा शख्स भी क्या बात करेगा? जिस एतमाद से आकर उन्होंने ये बाते की कि महमूद कुरैशी साहब की टांगे कांप रही थीं। हिन्दुस्तान हमला कर रहा है। हमने हिन्दुस्तान को घुसकर मारा है। और पुलवामा में जो कामयाबी है, वह इमरान खान की सरकार में बड़ी कामयाबी है। उसके हिस्सेदार आप भी सब हैं।"

आखिर पाकिस्तान क्यों बौखला गया है?

दरअसल, पाकिस्तान की तरफ से यह बयान ऐसे ही नहीं आया है। बुधवार को पाकिस्तान नेशनल असेंबली में मुस्लिम लीग-एन के नेता अयाज सादिक ने एक मीटिंग का हवाला देते हुए बताया कि अगर अभिनंदन को रिहा नहीं करते तो पाकिस्तान हमला कर देता। उन्होंने कहा था, "विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक अहम मीटिंग में कहा था कि अगर हम अभिनंदन को नहीं छोड़ते तो भारत रात 9 बजे तक हमला कर देता।" अयाज सादिक ने विपक्षी नेताओं को बताया, "मुझे याद है कि मीटिंग के दौरान आर्मी चीफ बाजवा कमरे में आए, उस समय उनके पैर कांप रहे थे और वे पसीना-पसीना थे।" इसी पर सफाई देने हुए फवाद चौधरी ने पुलवामा हमले की बात कबूल की। 

पुलवामा हमले पर पाकिस्तान ने क्या कहा था?

पुलवामा हमले पर इमरान खान ने भारत को सफाई देते हुए कहा था कि पुलवामा हमले में हम झूठा आरोप लगाया है। अगर आप हम पर कार्रवाई करेंगे तो हम भी जंग के लिए तैयार हैं। इमरान खान ने कहा कि भारत दुनिया की किसी भी एजेंसी से जांच करा लो, हम तैयार हैं। हम दहशतगर्दी पर भी बात करने को तैयार हैं। भारत सोचे कि कश्मीर के युवा मरने-मारने पर क्यों उतर आए?

14 फरवरी 2019 को हुआ था पुलवामा हमला

14 फरवरी 2019 को जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारतीय सुरक्षा कर्मियों को ले जाने वाले सीआरपीएफ काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ, जिसमें 45 भारतीय सुरक्षा कर्मियों की जान गयी थी। यह हमला जम्मू और कश्मीर के पुलवामा जिले के अवन्तिपोरा के पास लेथपोरा इलाके में हुआ था। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित इस्लामिक आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने ली है, हालांकि, पाकिस्तान ने हमले की निंदा की और जिम्मेदारी से इनकार किया था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios