Asianet News HindiAsianet News Hindi

ऋषि सुनक या लिज़ ट्रस, कौन बनेगा ब्रिटेन का नया PM, आज होगा ऐलान, 6 सितंबर को होगी शपथ

तमाम विवादों में घिरे बोरिस जॉनसन ने 7 जुलाई को पार्टी नेता के पद से इस्तीफा दिया था। ब्रिटेन का एक सर्वे के मुताबिक, पार्टी के हर 10 में से 6 मेंबर्स लिज़ ट्रस के साथ रहे। ऐसे में ट्रस ही बोरिस जॉनसन की जगह ले सकती हैं।

Liz Truss And Rishi Sunak: Announcement of new Prime Minister of Britain and interesting story kpa
Author
First Published Sep 5, 2022, 7:55 AM IST

लंदन. ब्रिटेन में बोरिस जॉनसन का उत्तराधिकारी कौन होगा, इसका फैसला आज यानी 5 सितंबर को होने वाला है। 2 सितंबर की शाम को चुनाव खत्म हुआ था। यूके में प्रधानमंत्री पद की रेस में भारतीय मूल के ऋषि सुनक और फॉरेन सेक्रेटरी लिज़ ट्रस हैं। लिज ट्रस कंजरवेटिव पार्टी की दक्षिणपंथी प्रत्याशी रही हैं। भारतीय मूल के ऋषि सुनक इस मुकाबले में काफी चर्चित रहे। पार्टी के करीब 1.60 लाख सदस्यों ने नए प्रधानमंत्री के लिए वोटिंग की थी। बता दें कि तमाम विवादों में घिरे बोरिस जॉनसन ने 7 जुलाई को पार्टी नेता के पद से इस्तीफा दिया था। ब्रिटेन का एक सर्वे के मुताबिक, पार्टी के हर 10 में से 6 मेंबर्स लिज के साथ रहे। ऐसे में ट्रस ही बोरिस जॉनसन की जगह ले सकती हैं।

ऐसी है यहां की व्यवस्था
ब्रिटेन समयानुसार दोपहर 12:30 बजे सर ग्राहम ब्रैडी विजेता की घोषणा करेंगे। वे टोरी सांसदों की 1922 समिति के अध्यक्ष और चुनाव के रिटर्निंग ऑफिसर हैं।

6 सितंबर को बोरिस जॉनसन PM हाउस 10 डाउनिंग स्ट्रीट से बतौर पीएम देश की जनता को अपना आखिरी भाषण देंगे। यहां से वे महारानी को अपना इस्तीफा सौंपने स्कॉटलैंड के एबरडीनशायर रवाना होंगे। क्वीन एलिजाबेथ इस समय यही हैं। एलिजाबेथ नए प्रधानमंत्री की औपचारिक रूप से घोषणा करेंगी।  शपथ ग्रहण समारोह स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में आयोजित किया जाएगा।

आफिसियली अनाउंसमेंट के बाद नए प्रधानमंत्री लंदन लौटेंगे। यहां 10 डाउनिंग स्ट्रीट से नए प्रधानमंत्री लंदन के समय के मुताबिक शाम करीब 4 बजे अपना पहला भाषण देंगे। वे अपनी नई कैबिनेट की नियुक्ति  भी करेंगे। कैबिनेट की पहली मीटिंग 7 सितंबर को होगी। इसके बाद नए प्रधानमंत्री पहली बार सदन (हाउस ऑफ कॉमन्स) पहुंचेंगे।

इस्लामिक कट्टरपंथियों के खिलाफ दिया था ये बयान
भारतीय मूल के ऋषि सुनक ने ऐलान किया था कि अगर वे PM बनते हैं, तो इस्लामिक कट्टरपंथियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लेंगे। दरअसल, ब्रिटेन ही नहीं, दुनिया के तमाम देश इस्लामिक कट्टरपंथ से जूझ रहे हैं।  सुनक ने इस्लामी चरमपंथ को ब्रिटेन (Britain) के लिए ‘सबसे बड़ा खतरा बताते हुए कहा था कि चरमपंथ की मौजूदा सरकारी परिभाषा को अपडेट करेंगे और आंतकवाद रोधी कानूनों (Anti-Terror Laws) को और अधिक मजबूत करेंगे। बता दें कि इस्लामिक कट्टरपंथ से ब्रिटेन ही नहीं, भारत जैसे तमाम देश चिंतित हैं। बांग्लादेश में इस्लामिक कट्टरपंथियों के हिंदुओं पर हमले बढ़ते(Attack on Bangladesh Hindus) जा रहे हैं। क्लिक करके पूरी खबर पढ़ें

ऋषि सुनक के बारे में
ऋषि सुनक ब्रिटेन में हाउस ऑफ कॉमन्स (लोकसभा) में सबसे अमीर सांसद हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सिर्फ उनके पास ही 2 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति है। अक्षता मूर्ति के पिता नारायण मूर्ति ने ​​10,000 रुपए से इन्फोसिस  कंपनी की शुरुआत की थी। आज यह कंपनी 100 बिलियन डॉलर से ज्यादा की है। इन्फोसिस वॉल स्ट्रीट पर लिस्ट होने वाली पहली भारतीय कंपनी भी है। क्लिक करके पढ़ें पूरी खबर

यह भी पढ़ें
इस्लामिक कट्टरता और आतंकवाद से निपटने मुसलमानों को बुरी तरह रौंद रहा यह देश
पाकिस्तान में डूबा UK के बराबर का एरिया, फिर भयंकर बारिश-बाढ़ का खतरा, ग्लोबल वार्मिंग को लेकर बढ़ा ALERT

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios