Asianet News Hindi

प्रिंस फिलिप के अंतिम संस्कार में नहीं आएंगी मेघन मर्केल, जानिए क्या है वजह

कोरोना महामारी पूरे विश्व में है। यूके सरकार के कोरोना प्रोटोकाल के अनुसार प्रिंस फिलिप के अंतिम संस्कार में केवल 30 लोगों के शामिल होने की अनुमति है। प्रोटोकाल को देखते हुए शाही परिवार ने अंतिम संस्कार के वक्त मौजूद लोगों की लिस्ट तैयार की है इसमें प्रिंस हैरी का नाम तो है लेकिन बताया जा रहा है कि मेघन मर्केल का नाम नहीं है। 

Meghan Markle will not attend Prince Philip funeral who died on 9th April DHA
Author
London, First Published Apr 12, 2021, 5:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लंदन। ड्यूक आफ एडिनबरा प्रिंस फिलिप के अंतिम संस्कार में प्रिंस हैरी की पत्नी मेघन मार्केल नहीं आएंगी। अंतिम संस्कार में रहने वाले लोगों की सूची में मेघन का नाम नहीं है। अभी कुछ दिन पहले ही मेघन व प्रिंस हैरी का ओफ्रा विन्फ्रे को दिया गया इंटरव्यू काफी तलहका मचाया था। 

कोविड प्रोटोकाॅल के तहत 30 लोग ही रहेंगे शामिल 

कोरोना महामारी पूरे विश्व में है। यूके सरकार के कोरोना प्रोटोकाल के अनुसार प्रिंस फिलिप के अंतिम संस्कार में केवल 30 लोगों के शामिल होने की अनुमति है। प्रोटोकाल को देखते हुए शाही परिवार ने अंतिम संस्कार के वक्त मौजूद लोगों की लिस्ट तैयार की है इसमें प्रिंस हैरी का नाम तो है लेकिन बताया जा रहा है कि मेघन मर्केल का नाम नहीं है। 

पैलेस ने बताई वजह

बकिंघम पैलेस के अधिकारियों ने बताया कि प्रिंस हैरी शोकसभा में शामिल होंगे लेकिन उनकी पत्नी मेघन मर्केल नहीं आ रहीं। वह गर्भवती हैं। डाॅक्टर्स ने उनको कोरोना की वजह से यात्रा करने से मना किया है। 

मेघन मर्केल का इंटरव्यू चर्चा में रहा था

कुछ ही दिन पहले शाही दंपत्ति प्रिंस हैरी व मेघन मर्केल ने एंकर ओप्रा विन्फ्रे को एक इंटरव्यू दिया था। हैरी व मर्केल ने पिछले साल शाही परिवार से अलग होकर अमेरिका आकर बसने का निर्णय लिया थ। इन लोगों ने शाही परिवार के भीतर सहयोग की कमी को लेकर बात की थी। इंटरव्यू में मेघन ने कहा था कि शाही परिवार में उनके बेटे के रंग को लेकर बातें हुआ करती थीं। यह इंटरव्यू खासा बवाल मचाया था। 

प्रिंस फिलिप का निधन 9 अप्रैल को हुआ था, 17 को होगा अंतिम संस्कार

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का निधन 9 अप्रैल को हुआ था। वह 99 साल के थे। प्रिंस फिलिप का अंतिम संस्कार 17 अप्रैल को होना तय किया गया है। 

द्वितीय विश्व युद्ध लड़ने वाले अंतिम जीवित व्यक्ति रहे

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जाॅनसन ने कहा कि वह अनगिनत युवाओं के प्रेरणस्रोत थे। उनके निधन की सूचना से भारी दुःख हुआ। जाॅनसन ने कहा कि प्रिंस फिलिप केवल यूके या काॅमनवेल्थ नेशन्स में ही लोकप्रिय नहीं थे बल्कि पूरी दुनिया को उनसे स्नेह था। उन्होंने कहा कि वह द्वितीय विश्व युद्ध लड़ने वाले अंतिम जीवित व्यक्ति थे। 

ब्रिटेन में झंड़ा झुका दिया गया है

ड्यूक आफ एडिनवर्ग प्रिंस फिलिप के शोक में ब्रिटेन के सरकारी दफ्तरों व रायल हाउस के झंड़े झुका दिए गए हैं। बकिंघम पैलेस पर एक शोक संदेश चस्पा कर दिया गया है। 

आठ पोते और नौ परपोते हैं रानी व फिलिप के

रानी एलिजाबेथ द्वितीय व प्रिंस फिलिप से चार बच्चे हैं। इनके नाम चाल्र्स, ऐनी, एंड्रयू और एडवर्ड है। इसके अलावा इनके आठ पोते और नौ परपोते हैं। प्रिंस फिलिप व रानी एलिजाबेथ ने 1947 में वेस्ट मिनिंस्टर एब्बे में शादी की थी। पहली बार रानी एलिजाबेथ से इनको 1939 में मिलवाया गया। द्वितीय युद्ध के दौरान वह कई मौकों पर रानी के संपर्क में रहे। प्रिंस फिलिप नेवी में थे। प्रिंस फिलिप 2017 में सभी सार्वजनिक पदों से रिटायर हुए जब यह 96 साल के थे। 

बचपन में परिवार को होना पड़ा था निर्वासित

प्रिंस फिलिप का जन्म Island of Corfu में डेनिश व ग्रीक शाही खिताब वाले परिवार में हुआ था। इनके पिता को परिवार समेत निर्वासित होना पड़ा था जब यह महज 18 महीने के थे। इनके चाचा तत्कालीन ग्रीक राजा काॅन्स्टेंटाइन ने परिवार को निर्वासित कर दिया था। इनके माता-पिता 18 महीने के फिलिप व चार बहनों के साथ देश छोड़ा। इसके बाद परिवार फ्रांस में आकर बस गया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios