बैंकाॅक। म्यांमार में तख्तापलट के खिलाफ चल रहे जनांदोलन को दबाने के लिए खूनी खेल हो रहा है। मंगलवार को विरोध प्रदर्शन का 66वां दिन है। जनांदोलन को दबाने के लिए सेना हिंसक हो चुकी है। सैन्य कार्रवाई में 550 से अधिक आंदोलनकारी नागरिकों की जान जा चुकी है। लेकिन प्रदर्शन जारी है। 

विरोध का चेहरा रही 16 साल की लड़की को मार डाला

बीते दिनों तक विरोध का चेहरा रही एक सोलह साल की लड़की को सेना ने निर्मम तरीके से मार डाला। इससे लोगों का गुस्सा और बढ़ गया। सेना द्वारा लड़की हत्या के बाद प्रदर्शन का दूसरा चेहरा रहीं एक नन ने डटकर सेना का सामना करनी की ठानी। सेना को खुली चुनौती देते हुए कहा कि या तो कत्लेआम बंद करो या उन्हें मार डालो। 

नन का फूटा गुस्साः कत्लेआम बंद करो या मुझे मार डालो

नन अभी सुर्खियों में थी ही कि विरोध का एक नया चेहरा सामने आ गया है। इस संग्राम में म्यांमार की ब्यूटी क्वीन हैन ले भी मोर्चा खोल दी हैं। थाईलैंड की राजधानी बैंकाॅक में शनिवार को मिस ग्रैंड इंटरनेशनल ब्यूटी पीजेंट का आयोजित था। इसमें पहुंची मिस ग्रैंड म्यांमार हैन ले ने अपने देश की मदद की अपील की। 

मेरे देश के लोगों को मौत के घाट उतारा जा रहा

22 वर्षीय ब्यूटी क्वीन हैन ले ने कहा, ‘आज यहां मैं इस स्टेज पर हूं और वहां मेरे देश म्यांमार में लोगों को मौत के घाट उतारा जा रहा है। मुझे जान गंवानें वालों के लिए दुःख है।’ उन्होंने कहा कि हर कोई अपने देश में खुशहाली और समृद्धि के साथ शांतिपूर्ण वातावरण चाहता है। सत्ता हासिल करने और उस पर राज करने के लिए नेता अपने शक्ति का गलत प्रयोग कर रहे हैं, नेताओं को अपनी शक्ति का सत्ता में राज करने के लिए इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 

कत्लेआम की स्थिति बयां करते हुए रो पड़ी म्यांमार की सुंदरी

मंच में अपने देश की त्रासद स्थिति बताते हुए हैन अपने आंसू को न रोक सकी और मंच पर ही रो पड़ी। हैन ने विश्व से अपील की कि म्यांमार की सभी मदद करें, तत्काल अंतरराष्ट्रीय मदद पहुंचाई जाए और उनके देशवासियों को बचाया जाए।