Asianet News Hindi

Monkey B Virus: चीन में संक्रमित डॉक्टर की मौत, 1932 से सबसे पहले मिला था यह वायरस

रिसर्चर्स ने अप्रैल में पशु चिकित्सक के Cerebrospinal Fluid को इकट्ठा किया और उसकी पहचान BV पॉजिटिव के रूप में की। हालांकि चिकित्सक के करीबियों के सैंपल वायरस की जांच में नेगेटिव पाए गए। 

Monkey B Virus: first death due to Monkey B virus in China pwa
Author
Beijing, First Published Jul 18, 2021, 6:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वर्ल्ड डेस्क. कोरोना वायरस के बीच चाइना में एक और वायरस मिला है।  बीजिंग के एक पशु चिकित्सक की डेथ मंकी बी वायरस के कारण हुई है। चाइनीज सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन और ग्लोबल टाइम्स के अनुसार 53 वर्षीय पशु चिकित्सक बीजिंग के एक पशु चिकित्सक में मंकी बी वायरस के रूप में चीन के पहले मानव संक्रमण मामले की पुष्टि की गई थी।

 

 

53 साल के पशु चिकित्सक नॉन-ह्यूमन प्राइमेट्स पर रिसर्च करने वाली एक संस्था के लिए काम करते थे। मार्च की शुरुआत में दो मरे हुए बंदरों को काटने के एक महीने बाद पशु चिकित्सक में मतली और उल्टी के शुरुआती लक्षण नजर आए थे।  मरीज के करीबी फिलहाल इस वायरस (Virus) से सुरक्षित हैं। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि कई अस्पतालों में इलाज कराया और अंततः 27 मई को उसकी मौत हो गई। चीन में इससे पहले BV संक्रमण के घातक या चिकित्सकीय रूप से स्पष्ट मामले सामने नहीं आए थे। लिहाजा पशु चिकित्सक का मामला चीन में पाया गया बीवी के साथ पहला मानव संक्रमण का मामला है।

इसे भी पढ़ें-  क्या है 'मंकीपॉक्स' संक्रमण, जिसने 20 साल में पहली बार अमेरिका में दी दस्तक, टेक्सास में मिला मरीज

रिसर्चर्स ने अप्रैल में पशु चिकित्सक के Cerebrospinal Fluid को इकट्ठा किया और उसकी पहचान BV पॉजिटिव के रूप में की। हालांकि चिकित्सक के करीबियों के सैंपल वायरस की जांच में नेगेटिव पाए गए। सबसे पहले यह वायरस 1932 में सामने आया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक यह वायरस सीधे संपर्क या शारीरिक स्राव के अदान-प्रदान के माध्यम से फैलता है। इस वायरस की मृत्यु दर 70 से 80 फीसदी है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios