Asianet News HindiAsianet News Hindi

Omicron Update : साउथ अफ्रीका नहीं लगाएगा लॉकडाउन, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया चौथी लहर से निपटने का प्लान

साउथ अफ्रीका (South Africa) में ही ओमीक्रोन (Omicron) का पहला मामला सामने आया था। वहां के स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि हम इस चौथी लहर से निपट सकते हैं। अगर हम सुरक्षा उपाय करने का अपना मौलिक कर्तव्य निभाते हैं। 

Omicron Covid 19 New variant South Africa Lockdown Health Minister
Author
Schloss Johannisburg, First Published Dec 5, 2021, 7:42 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जोहानिसबर्ग। साउथ अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister)जोए फाहला ने कहा कि देश कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप (Covid 19 New Variant) से आई महामारी की चौथी लहर से बिना सख्त पाबंदियां लगाए निपट सकता है। उन्होंने लोगों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने और टीके की दोनों डोज लेने का अनुरोध किया। 
मंत्री ने कहा-  हम इस चौथी लहर से निपट सकते हैं। हम मौलिक उपकरणों के साथ ओमीक्रोन (Omicron) से निपट सकते हैं। उन्होंने कहा-अगर हम सुरक्षा उपाय करने का अपना मौलिक कर्तव्य निभाते हैं और 12 साल से अधिक आयु के हम सभी पात्र लोग टीके की खुराक लेने के लिए अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र (Vaccination Center) जाते हैं तो हम इससे इस तरीके से निपट सकते हैं। ऐसा करने पर सरकार को अगले कुछ दिनों में गंभीर पाबंदियां लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वैक्सीन की डोज ले चुके केवल कुछ ही लोग बीमार पड़े हैं और ज्यादातर में हल्के लक्षण हैं, जबकि अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों में से बड़ी संख्या उन लोगों की है जिन्होंने टीके की डोज नहीं ली है। 

भारत में अब तक चार केस
भारत में अभी ओमीक्रोन (Omicron) के चार मामले सामने आए हैं। इसे लेकर दहशत फैल रही है। साउथ अफ्रीका (South Africa) से महाराष्ट्र (Maharashtra) आए एक शख्स के कोविड के नए वेरिएंट ओमीक्रोन की पुष्टि हुई है। महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग (Maharashtra Health department) के मुताबिक मुंबई (Mumbai) के पास कल्याण डोंबिवली (Kalyan Dombivali) का रहने वाला यह शख्स साउथ अफ्रीका से लौटा था। उसकी उम्र 33 साल है। देश में पहला केस कर्नाटक में सामने आया था। वह भी दक्षिण अफ्रीका से आया था और कर्नाटक से दुबई चला गया।

डेल्टा से ज्यादा खतरनाक और संक्रामक है ओमीक्रोन 
ओमीक्रोन वैरिएंट को डेल्टा से ज्यादा खतरनाक और संक्रामक बताया गया है। यह कोविड पीड़ित रह चुके लोगों को तीन बार संक्रमित कर सकता है। दक्षिण अफ्रीका में 24 नवंबर को इसका पहला मामला सामने आया था। अब तक इस वैरिएंट के मरीज 30 से ज्यादा देशों में मिल चुके हैं। हालांकि, अभी इस बारे में बहुत कुछ स्पष्ट नहीं है कि यह वैरिएंट कितना खतरनाक है। 

यह भी पढ़ें
भारत में Omicron संक्रमित चौथा केस भी मिला, मुंबईकर ने बगैर vaccine डोज लिए किया ट्रेवल
Covid 19 Updates: Omicron के चलते तीसरी लहर का खतरा, टीकाकरण अभियान ने पकड़ी रफ्तार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios