Asianet News HindiAsianet News Hindi

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के अंतिम संस्कार में शामिल होंगी राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, रूस को नहीं मिला निमंत्रण

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय (Queen Elizabeth II) के अंतिम संस्कार में भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू शामिल होंगी। इस कार्यक्रम में करीब 500 विश्वनेता शामिल होने वाले हैं। सोमवार को वेस्टमिंस्टर एब्बे में अंतिम संस्कार होगा। द्रौपदी मुर्मू तीन दिन की यूके यात्रा पर जाने वाली हैं।
 

President Droupadi Murmu to join 500 world leaders at Queen Elizabeth II funeral vva
Author
First Published Sep 14, 2022, 4:54 PM IST

लंदन। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के अंतिम संस्कार (Queen Elizabeth II funeral) में शामिल होंगी। अंतिम संस्कार में दुनियाभर के करीब 500 विश्वनेता शामिल होने वाले हैं। सोमवार को वेस्टमिंस्टर एब्बे में अंतिम संस्कार होगा। इस समारोह में दुनियाभर के राजा, रानी, राष्ट्राध्यक्ष और सरकार के प्रमुख शामिल होंगे। रूस-यूक्रेन जंग का असर इस कार्यक्रम पर पड़ा है। रूस को निमंत्रण नहीं दिया गया है। 

विदेश मंत्रालय ने बुधवार को राष्ट्रपति की तीन दिवसीय यूके यात्रा की पुष्टि की। उन्हें लंदन में राजकीय अंतिम संस्कार के लिए आमंत्रित किया गया था। यह 57 वर्षों में यूके में पहला राजकीय अंतिम संस्कार है। आखिरी बार 1965 में राजकीय अंतिम संस्कार आयोजित किया गया था। उस वक्त ब्रिटेन के युद्ध के समय के प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल को अंतिम विदाई दी गई थी। 

सोमवार सुबह 11 बजे होगा अंतिम संस्कार 
स्थानीय समयानुसार सोमवार सुबह 11 बजे अंतिम संस्कार होगा। किंग चार्ल्स III रविवार शाम लंदन के बकिंघम पैलेस में विदेशी नेताओं के लिए आयोजित स्वागत समारोह की मेजबानी करेंगे। राष्ट्रपति मुर्मू सहित अतिथि राष्ट्राध्यक्षों के स्वागत समारोह में शामिल होने की उम्मीद है। रविवार को राष्ट्रपति मुर्मू के वेस्टमिंस्टर हॉल में रानी के ताबूत के लेटिंग-इन-स्टेट में भाग लेने, एक शोक पुस्तक पर साइन करने और बकिंघम पैलेस के पास लैंकेस्टर हाउस में भारत सरकार की ओर से शोक संदेश देने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें- महारानी एलिजाबेथ-II के अंतिम दर्शन के लिए 30 घंटे का इंतजार, पांच किलोमीटर से लंबी है लोगों की लाइन

सेंट जॉर्ज चैपल ले जाया जाएगा रानी का ताबूत
सोमवार को अंतिम संस्कार सेवा के बाद, रानी के ताबूत को वेस्टमिंस्टर एब्बे से विंडसर कैसल में सेंट जॉर्ज चैपल तक जुलूस में ले जाया जाएगा। विंडसर में एक स्वागत समारोह में राष्ट्रमंडल देशों के राष्ट्राध्यक्षों और ब्रिटेन के प्रमुख सहयोगियों के शामिल होने की संभावना है। सोमवार को अंतिम संस्कार समारोह के बाद रानी के ताबूत को वेस्टमिंस्टर एब्बे से विंडसर कैसल के सेंट जॉर्ज चैपल में ले जाया जाएगा। विंडसर में एक स्वागत समारोह में राष्ट्रमंडल देशों के राष्ट्राध्यक्षों और ब्रिटेन के प्रमुख सहयोगियों के शामिल होने की संभावना है। ब्रिटेन की मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रूस, बेलारूस और म्यांमार को राजकीय अंतिम संस्कार का निमंत्रण नहीं दिया गया है।

यह भी पढ़ें-  व्हिस्की, शेरी या हों डिस्को इन प्यारे कॉर्गी डॉग्स की देखभाल करेंगे महारानी के छोटे बेटे प्रिंस एंड्रयू

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios