Asianet News Hindi

ट्रंप बोले- भारत को दान देंगे वेंटिलेटर्स, PM मोदी ने कहा- थैंक्यू,हम महामारी से एक साथ लड़ रहे हैं

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ऐलान किया है कि वे भारत को अनुदान के तौर पर वेंटिलेटर्स देंगे। उन्होंने कहा, हम इस महामारी के दौर में भारत के साथ हर वक्त खड़े हैं। जिसके बाद पीएम मोदी ने ट्रंप को थैंक्यू कहा है। 

President Trump says US will donate ventilators to India, cooperate on vaccine development kps
Author
Washington D.C., First Published May 16, 2020, 7:43 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन. कोरोना से जारी जंग के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ऐलान किया है कि वे भारत को अनुदान के तौर पर वेंटिलेटर्स देंगे। जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति का आभार जताया है। साथ ही कोरोना के खिलाफ एक साथ लड़ाई लड़ने को महत्वपूर्ण बताया है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा- थैंक्यू प्रेसिडेंट ट्रंप, कोविड 19 की महामारी से हम सब मिलकर लड़ रहे हैं। दुनिया को स्वस्थ बनाने के लिए हम सभी राष्ट्रों को साथ मिलकर काम करना होगा। इसके लिए हम सब कोशिश कर रहे हैं।'

क्या कहा ट्रंप ने?

ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, मुझे गर्व है कि अमेरिका भारत के मेरे दोस्तों को वेंटिलेटर्स का दान करेगा। हम इस महामारी के दौर में भारत के साथ हर वक्त खड़े हैं। हम लोग वैक्सीन बनाने में भी एक दूसरे की मदद कर रहे हैं। ट्रंप ने कहा, हम साथ मिलकर कोरोना जैसे दुश्मन को मात देंगे। उन्होंने कहा कि इस साल (2020) के अंत तक कोरोना वायरस का टीका विकसित होने की संभावना है।

ट्रंप ने फिर की पीएम मोदी की तारीफ 

राष्ट्रपति ट्रंप ने शुक्रवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की। उन्होंने कहा, भारत बहुत महान देश है और प्रधानमंत्री मोदी मेरे बहुत अच्छे मित्र हैं। मैं कुछ दिन पहले ही भारत से लौटा हूं और हमलोग एक साथ रहे। राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने बयान में नई दिल्ली, अहमदाबाद और आगरा दौरे का जिक्र किया। इससे पहले व्हाइट हाउस की ओर से कहा गया कि भारत के साथ अमेरिकी संबंधों को लेकर राष्ट्रपति ट्रंप बहुत खुश हैं। 

भारत अमेरिका का एक बड़ा साझीदार बन गया है। इसी मामले में सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि अमेरिका भारत को 200 वेंटिलेटर्स दे सकता है। ट्रंप ने यह भी कहा है कि भारत और अमेरिका मिलकर वैक्सीन बना रहे हैं जिसे लोगों को मुफ्त में दिया जा सकता है। 

लॉकडाउन को लेकर भी किया इशारा

ट्रंप की ओर से वायरस के मामलों के लिए प्रशासन में नियुक्त किए गए एक पूर्व दवा कार्यकारी मोनसेप स्लोई ने कहा कि हमारा प्रयास वर्ष 2020 के अंत तक टीका तैयार करने का है। रोज गार्डन के एक कार्यक्रम में ट्रंप ने कहा कि वह राज्यों को आर्थिक गतिविधियों को दोबारा शुरू करने के साथ ही इसे आगे बढ़ते हुए देखना चाहते हैं।

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा भेज कर भारत ने की थी मदद 

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की खेप भारत ने अमेरिका को दी थी। ट्रंप ने इसके लिए खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया था। ट्रंप के आग्रह को स्वीकार करते हुए सरकार ने दवा की बड़ी खेप अमेरिका भेजने की मंजूरी दी थी। अमेरिका ने कोरोना मरीजों के इलाज के लिए भारत यह दवा मांगी थी। भारत में इस दवाई का निर्माण बड़े स्तर पर होता है, लिहाजा अमेरिका और राष्ट्रपति ट्रंप की मांग फौरन पूरी कर दी गई थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios