वॉशिंगटन। डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका से चीन जाने वाली पैंसेजर फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है। ट्रंप प्रशासन ने बुधवार को कहा कि 16 जून से चीन की सभी पैसेंजर फ्लाइट्स पर अस्थाई रूप से रोक लगाई जाती है। कोरोना महामारी के बाद दोनों देशों के बीच काफी तनाव बढ़ गया है। अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि डेल्टा एयरलाइन और यूनाइटेड एयरलाइन ने सरकार से चीन जाने वाली फ्लाइट्स चालू करने की अनुमति मांगी थी। इसके बाद यह फैसला लिया गया है। बता दें कि चीन की फ्लाइट्स कोरोना महामारी के दौरान भी चालू रहीं। अधिकारियों ने कहा कि चीन की एयर चाइना, चाइना ईस्टर्न एयरलाइन, चाइना सदर्न एयरलाइन, हाइनान एयरलाइन जैसी एयरलाइन कंपनियों पर रोक लगाई गई है।
 

चीन पर लगाया था फ्लाइट्स चालू न करने का आरोप
इसके पहले ट्रंप प्रशासन ने 22 मई को चीनी सरकार पर फ्लाइट्स चालू न करने का आरोप लगाया था। ट्रंप ने 31 जनवरी के बाद सभी नॉन अमेरिकी यात्रियों पर अमेरिका आने से रोक लगा दी थी जो पिछले 14 दिन तक चीन में रहा हो। हाल ही में प्रशासन ने चीन आने-जाने वाली सभी फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है। व्हाइट हाउस और ट्रांसपोर्टेशन विभाग ने इस मामले पर कमेंट करने से मना दिया है। वॉशिंटन की चीन एंबेसी ने भी इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं की है।